नई दिल्ली. आईसीसी महिला विश्व कप फाइनल में इंग्लैंड से हारने के बावजूद लोगों का दिल जीतने वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम और सहयोगी स्टाफ से पीएम मोदी ने मुलाकात की. पीएम मोदी ने कहा कि भारतीय बेटियों ने कई अंतर्राष्ट्रीय खेल स्पर्धा में देश को गर्व करने का मौका दिया. उन्होंने कहा कि अन्य क्षेत्रों में महिलाओं की प्रगति को देखकर समाज को फायदा होगा. उन्होंने बताया कि खेल के अलावा कक्षा 10 एवं कक्षा 12 में स्कूल के परिणामों में लड़कियां आगे रही हैं और इसरो के मिशन में महिला वैज्ञानिकों ने अहम रोल निभाया है.

पीएम मोदी ने टीम से कहा कि वह हारी नहीं है. बल्कि उन्होंने कहा कि 125 करोड़ भारतीयों ने उनकी हार को अपने कंधों पर उठा लिया है जो उनकी सबसे बड़ी जीत है. वहीं महिला खिलाड़ियों ने अपने हस्ताक्षर वाला एक बल्ला प्रधानमंत्री को तोहफे में दिया.

पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान टीम की खिलाड़ियों ने कहा कि हमने जब पीएम मोदी का ट्वीट देखा तो हमे बेहद खुशी हुई. हमे पता चला कि हमारे खेल को पीएम मोदी भी देख रहे हैं. इस दौरान टीम की खिलाड़ियों पीएम मोदी से योग और तनाव के बीच कैसे काम करे यह भी पुछा. पीएम मोदी ने उन्हें योग की सलाह दी.

गौरतलब हो कि विश्व कप के फाइनल में भारतीय टीम इंग्लैंड से मात्र 9 रनों से हार गई थी. जहां इंग्लैंड की टीम ने भारत के सामने जीत के लिए 229 रनों का लक्ष्य रखा था. वहीं जवाब में भारतीय टीम 219 रनों पर ऑलआउट हो गई. लेकिन टीम की शानदार प्रदर्शन और मेहनत को पूरे देश ने जमकर सराहा.