पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान करने वाले सुरेश रैना (Suresh Raina) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पत्र लिखकर उनके शानदार करियर को याद किया। पीएम ने अपने खत में विश्व कप 2011 के दौरान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अहमदाबाद में क्वार्टर फाइनल के दौरान खेली रैना की कवर ड्राइव का भी जिक्र किया।Also Read - Pariksha Pe Charcha 2022: परीक्षा पे चर्चा के लिये रजिस्‍ट्रेशन की आज आखिरी तारीख, जल्‍दी करें

पीएम मोदी ने रैना को लिखे पत्र में कहा, ‘‘मैं संन्यास शब्द का इस्तेमाल नहीं करना चाहता क्योंकि आप को काफी युवा और ऊर्जावान हैं। आपके क्रिकेट करियर में कई बार चोटों के कारण आपको नाकामी झेलनी पड़ी लेकिन आप हर बार उन चुनौतियों से निखरकर आए।’’ Also Read - गणतंत्र दिवस Special-गाडिय़ों की झाँकी-Watch Video

Also Read - MS Dhoni का 'क्रिकेटिया दिमाग' सबसे तेज, Greg Chappell ने तारीफ में पढ़े कसीदे

रैना ने प्रधानमंत्री को धन्यवाद देते हुए ट्वीट किया, ‘‘जब हम खेलते हैं तो देश के लिए खून पसीना देते हैं। देशवासियों से मिले प्यार और देश के प्रधानमंत्री से मिले इस प्यार से बड़ी कोई प्रशंसा नहीं। धन्यवाद नरेंद्र मोदी जी आपकी प्रशंसा और शुभकामनाओं के लिए।’’

मोदी ने पत्र में लिखा कि उन्होंने मोटेरा में 2011 विश्व कप क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रैना की 34 रन की नाबाद पारी का पूरा मजा लिया था।

उन्होंने लिखा, ‘‘भारत 2011 विश्व कप में आपकी प्रेरणास्पद भूमिका को नहीं भुला सकता। मैने मोटेरा स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में आपको पारी के सूत्रधार की भूमिका निभाते देखा। मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि प्रशंसकों को आपके कवर ड्राइव्स की कमी खलेगी जो मैने उस दिन देखे।’’

मोदी उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री थे। उन्होंने रैना को परिपक्व ‘टीम मैन’ बताया जो दूसरों की सफलता का जश्न मनाता था। उन्होंने लिखा, ‘‘सुरेश रैना हमेशा टीम भावना के लिए याद किए जाएंगे। आपके निजी रिकार्ड के लिए नहीं बल्कि टीम के और देश के गौरव के लिए खेला।’’

उन्होंने लिखा, ‘‘टीम पर आपको उत्साह प्रेरणास्पद था और हमने देखा है कि विरोधी टीम का विकेट गिरने पर सबसे पहले आप ही जश्न मनाते थे। एक बल्लेबाज के तौर पर आप सभी फॉर्मेट्स, खासकर टी20 में बखूबी ढले हुए थे। ये आसान फॉर्मेट नहीं है। इसमें काफी चुस्ती फुर्ती की जरूरत होती है। आपकी रफ्तार और चुस्ती टीम के लिए काफी काम आती रही है।’’

प्रधानमंत्री ने उनके चुस्त क्षेत्ररक्षण की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘आपकी फील्डिंग शानदार और मिसाल रही। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कुछ बेहतरीन कैच आपने लपके। चुस्त फील्डिंग से आपने कई रन बचाए।”

उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान और महिला सशक्तिकरण में योगदान के लिए भी रैना की सराहना की। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि आप भारत की सांस्कृतिक जड़ों से जुड़े हैं और हमारे गौरवशाली लोकाचार के साथ-साथ भारतीय मूल्यों से युवाओं के जुड़ाव को गहरा करने पर मुझे गर्व है। मुझे विश्वास है कि आप आने वाले समय में जो भी करेंगे, उसमें इतनी ही सार्थक और सफल पारी रहेगी।’’