ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आईसीसी टी20 विश्व कप 2020 के पहले मैच में भारतीय टीम की हीरो बनीं लेग स्पिनर पूनम यादव को सीनियर खिलाड़ी और वनडे कप्तान मिताली राज ने गेमचेंजर कहा है। Also Read - मिताली राज ने कहा- नहीं कर सकते और इंतजार, अगले साल महिला IPL शुरू करे BCCI

भारत-ऑस्ट्रेलिया मुकाबले पर टिप्पणी करते हुए लिखे गए आईसीसी के अपने कॉलम में मिताली ने कहा, “पूनम यादव का स्पेल टर्निंग प्वाइंट था। वो पिछले काफी समय ये भारतीय टीम की प्रमुख स्पिनर है, और शुक्रवार को उसका स्टाइल काम कर गया।” Also Read - 'वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक जड़ सकती हैं स्मृति मंधाना'

भारतीय कप्तान ने कहा, “हालांकि हमने दीप्ति शर्मा की पारी और जेमिमा रॉड्रिगेज के साथ उसकी साझेदारी के दम पर वापसी कर ली थी लेकिन वो पूनम के लिए ऑस्ट्रेलिया के मेगास्टार खिलाड़ियों के विकेट थे, जिन्होंने खेल को पूरी तरह पलटा। उनके मध्यक्रम को आउट करने से मैच भारत के पलड़े में झुक गया, वो शानदार थी।” Also Read - फिरकी की जादूगर पूनम यादव ने चुनी अपनी फेवरेट IPL टीम, 'महिलाओं का टूर्नामेंट हुआ तो...'

शेफाली के स्ट्रोक्स से प्रभावित हुईं मिताली

मिताली ने पूनम के साथ भारत की युवा सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा की तारीफ की। अपना पहला विश्व कप खेल रहीं शेफाली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में मात्र 15 गेंदो पर 29 रन जड़े थे।

वेलिंगटन टेस्ट: विलियमसन-टेलर की साझेदारी से दूसरे दिन न्यूजीलैंड मजबूत; 51 रनों की बढ़त

16 साल की इस प्रतिभाशाली क्रिकेटर के बारे में राज ने कहा, “शेफाली ने अपने डेब्यू (विश्व कप में) में मुझे प्रभावित किया। उसने भारत के मध्यक्रम को मूमेंटम हासिल करने के लिए अतिरिक्त मदद दी। ट्राई सीरीज में उसने जो स्ट्रोक खेलने की क्षमता दिखाई थी, वर्मा उसे पर बकरार है और मुझे लगता है कि उसे पहले छह ओवरों में वो आजादी मिलनी चाहिए क्योंकि जब आप एक बड़ी टीम के खिलाफ खेलते हैं तो पहले छह ओवर में आए रन जरूरी होते हैं।”

जीत के साथ टूर्नामेंटस का आगाज करने वाली भारतीय टीम का दूसरा मुकाबला 24 फरवरी को पर्थ में बांग्लादेश के खिलाफ होगा।