कोरोनावायरस महामारी के कारण इस वर्ष जुलाई-अगस्त में आयोजित होने वाला टोक्यो ओलंपिक अगले वर्ष यानी 2021 तक के लिए टाल दिया गया है. कोविड-19 संक्रमण से विश्व में अब तक लगभग 27 हजार लोगों ने अपनी जान गंवा दी है जबकि 6 लाख लोग इससे संक्रमित हैं. भारत में इस वायरस से अब तक 800 से अधिक मरीज सामने आ चुके हैं जबकि 19 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है. भारत में इस समय 21 दिन का लॉकडाउन है. Also Read - भारत लौटेंगे तीन महीने से जर्मनी में फंसे शतरंज चैंपियन विश्वनाथन आनंद

भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने शनिवार को कहा कि कोरोनावायरस महामारी के कारण स्थगित किए गए टोक्यो ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट हालात सुधरने पर होंगे. उन्होंने राष्ट्रीय खेल महासंघों (एनएसएफ) से अपने अपने खेलों में ऐसे टूर्नामेंटों की सूची बनाने को कहा. भारत के अब तक 7 खेलों (एथलेटिक्स, तीरंदाजी, मुक्केबाजी, घुड़दौड़, हॉकी, निशानेबाजी और कुश्ती) के 80 खिलाड़ी ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं. आईओए को यह आंकड़ा 120 से अधिक रहने की उम्मीद है. Also Read - कोविड-19 महामारी की भेंट चढ़ा 36वां राष्ट्रीय खेल,अनिश्चितकाल तक के लिए टाला गया

COVID-19: ‘टीम इंडिया के खिलाड़ियों को प्रैक्टिस के लिए जगह की कमी पहुंचा सकती है नुकसान’ Also Read - IOA अध्यक्ष नरिंदर बत्रा के घर कोरोना ने दी दस्तक, पिता सहित ये लोग भी हुए संक्रमित

आईओए अध्यक्ष ने सभी एनएसएफ के आला अधिकारियों को टोक्यो ओलंपिक के लिए उनके खिलाड़ियों की तैयारी का कैलेंडर साझा करने को कहा. बत्रा ने सभी राष्ट्रीय खेल महासंघों के अध्यक्षों और सचिवों को लिखे पत्र में कहा, ‘स्थगित किए गए क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट हालात ठीक होने पर नई तारीखों पर होंगे. उसके लिए संभावित योजना तैयार करें. अपने अपने खेलों के क्वालीफिकेशन टूर्नामेंटों की भी जानकारी दें.’

उन्होंने यह भी कहा कि आईओए और खेल महासंघों को उन कोचों के कार्यकाल को विस्तार देने की योजना भी बनानी है जिनके अनुबंध इस साल के आखिर में खत्म होने हैं.

COVID-19: केएल राहुल LockDown में भी खुद को फिट रखने के लिए कर रहे हैं ये काम, देखें VIDEO

उन्होंने पत्र में यह भी लिखा कि 2021 में होने वाले ओलंपिक के लिए खिलाड़ियों की तैयारी की योजना भी बनाई जा और खिलाड़ियों के मौजूदा ठिकाने तथा उनके स्वास्थ्य के बारे में बताया जाए. उन्होंने पत्र की प्रतियां खेल मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण को भी भेजी हैं.

कोरोनावायरस के कारण इस समय विश्व में लगभग सभी खेल प्रतियोगिताएं या तो स्थगित कर दी गई हैं या उन्हें रद्द कर दिया गया है. भारत की बहुप्रतिक्षित इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को भी 15 अप्रैल तक टाल दिया गया है.