दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज के लिए टेस्ट टीम में बतौर सलामी बल्लेबाज शानदार शुरुआत करने वाले रोहित शर्मा (Rohit Sharma) चोट की वजह से न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज का हिस्सा नहीं बन पाएंगे। लेकिन रोहित की चोट ने युवा खिलाड़ियों के लिए राष्ट्रीय टीम में आने का रास्ता खोल दिया है। Also Read - एक साथ बायो बबल में इंट्री करेंगे कोहली, रोहित, रहाणे; इस तारीख को स्क्वाड से जुड़ेंगे ऋद्धिमान साहा

उनकी गैरमौजूदगी में पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) और मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) की जोड़ी को न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में सलामी बल्लेबाजी का मौका मिल सकता है। हांलाकि युवा बल्लेबाज शुबमन गिल (Shubman Gill) प्लेइंग इलेवन में जगह बना सकते हैं। Also Read - ICC WTC फाइनल: अगर ड्रॉ या टाई हुआ मैच तो भारत-न्यूजीलैंड में कौन बनेगा विजेता!

वेलिंगटन में होने वाले पहले टेस्ट मैच में शॉ और गिल में से किस खिलाड़ी को प्लेइंग इलेवन में मौका मिलेगा, इस सवाल पर टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने कहा, “दोनों ही बेहद प्रतिभाशाली हैं। वेलिंगटन में चाहे किसी को भी प्लेइंग इलेवन में जगह मिले, केवल ये बात कि वो दोनों यहां हैं, भारतीय राष्ट्रीय स्क्वाड का हिस्सा हैं और यहां से उनके लिए आकाश ही सीमा है।” Also Read - 'हमें नहीं भूलना चाहिए कि विराट-रोहित ICC नॉकआउट मैचों में फ्लॉप होते रहे हैं'

न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में सलामी बल्लेबाजी करने पर हनुमा विहारी का जवाब- मुझे कोई जानकारी नहीं

कोच शास्त्री ने बताया कि वो और कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) पिछले कुछ सालों से गिल के खेल को बेहद करीब से देख रहे हैं। गिल के बारे में शास्त्री ने कहा, “वो बेहद प्रतिभावान है। बल्लेबाजी के प्रति उसका रवैया एकदम स्पष्ट है और वो सकारात्मक मानसिकत से खेलता है। एक 21 साल के होने वाले लड़के के लिए ये बेहद उत्साहित करने वाला है।”

शास्त्री ने कहा कि मयंक, गिल और शॉ एक ही तरीके के खिलाड़ी हैं। उन्होंने कहा, “वो सभी एक ही स्कूल से हैं। उन्हें नई गेंद का सामना करना पसंद है, उन्हें चुनौती पसंद है। दुर्भाग्य से रोहित बाहर है, इससे शुबमन और पृथ्वी, मयंक के साथ सलामी बल्लेबाजी करने के दावेदार बन गए हैं। ये प्रतिद्वंदिता जरूरी है और यही एक 15 सदस्यीय स्क्वाड को मजबूत और स्थाई बनाती है।”