टीम इंडिया को अगले साल साउथ अफ्रीका में अंडर-19 विश्‍व कप खेलना है. इस मेगा टूर्नामेंट के लिए भारत की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. प्रियम गर्ग की कप्‍तानी में भारतीय टीम मैदान में उतरेगी. गर्ग ने टूर्नामेंट से पहले युवा बल्‍लेबाज पृथ्‍वा शॉ से सलाह ली है.Also Read - England vs India, Test Series: Suryakumar Yadav को पहली बार टेस्ट टीम के लिए बुलावा

भारतीय टीम अंडर-19 विश्‍व कप की डिफेंडिंग चैंपियन है. साल 2018 में भारत ने पृथ्‍वी शॉ की कप्‍तानी और मुख्‍य कोच राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन में विश्‍व कप पर कब्‍जा किया था. Also Read - India vs England: इंग्लैंड रवाना होंगे पृथ्वी शॉ और जयंत यादव; सूर्यकुमार यादव को टेस्ट डेब्यू का मौका

पढ़ें:- ICC Test Ranking: विराट नंबर-1, महज 12 टेस्‍ट खेलकर कंगारू बल्‍लेबाज टॉप-5 में हुआ शामिल Also Read - Sri Lanka vs India, 3rd ODI: श्रीलंका ने बचाई लाज, जानिए भारत की हार के 5 बड़े कारण

दक्षिण अफ्रीका में 17 जनवरी से नौ फरवरी तक अंडर-19 विश्व कप खेला जाना है. प्रियम गर्ग ने कहा, “खिताब की रक्षा के लिए अपने अभियान की योजना बनाने के लिए मैंने पूर्व कप्तान पृथ्वी शॉ से सलाह ली है.”

विश्व कप से पहले टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका की मेजबानी में वहां तीन वनडे और एक चतुष्कोणीय सीरीज खेलीगी. इस सीरीज में जिंब्बाब्वे और न्यूजीलैंड भी हिस्‍सा लेंगे.

वेबसाइट ईएसपीएन क्रिकइंफो से बातचीत के दौरान प्रियम गर्ग के कहा, ‘‘मैंने अब तक विराट सर से बात नहीं की है, मैंने पृथ्वी से काफी बात की है. उन्होंने मुझे बताया कि आपकी रणनीति, आपकी प्रक्रिया और आपकी टीम की एकजुटता सबसे महत्वपूर्ण है.’’

पढ़ें:- चेन्‍नई में रिषभ पंत ने अपने नेचुरल खेल के विपरीत खेली धीमी पारी, बोले- मैंने केवल…

‘‘टीम जितनी अधिक एकजुटता की भावना को महसूस करेगी, उतना ही बेहतर प्रदर्शन करेगी. पृथ्वी ने साथ ही कहा कि टीम को पता होना चाहिए कि उसका मजबूत पक्ष क्या है. उन्होंने बताया कि 2018 में भारत की सफलता में टीम की एकजुटता ने अहम भूमिका निभाई.