बंगाल वॉरियर्स और दबंग दिल्ली के बीच प्रो कबड्डी लीग (PKL) का फाइनल शनिवार को अहमदाबाद में खेला जाएगा. दोनों टीमें पहली बार खिताबी मुकाबले में पहुंची हैं. ऐसे में मुकाबला रोमांचक होने की उम्मीद है.

24 अक्टूबर को होगा धोनी के भविष्य पर फैसला, BCCI के भावी अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कही ये बात

बंगाल वॉरियर्स ने बुधवार को खेले गए दूसरे सेमीफाइनल में पूर्व चैंपियन यू मुंबा को 37-35 से जबकि दबंग दिल्ली ने पहले सेमीफाइनल में मौजूदा चैंपियन बेंगलुरु बुल्स को 44-38 से हराकर फाइनल में जगह बनाई.

दूसरे सेमीफाइनल में दोनों टीमें पहले पांच मिनट तक 3-3 से बराबरी पर थीं. इसके बाद अगले 10 मिनट में अपने कप्तान मनिंदर सिंह के बिना खेल रही बंगाल ने चार अंकों की बढ़त बना स्कोर 14-10 कर लिया. बंगाल ने यहां से अपनी बढ़त को कायम रखते हुए 18-12 के स्कोर के साथ पहले हाफ की समाप्ति की.

दूसरे हाफ में 10वें मिनट में बंगाल वॉरियर्स ने मुंबा को ऑलआउट कर 30-20 की बढ़त बना ली. अगले पांच मिनट तक भी बंगाल की टीम आठ अंकों से आगे थी और उसका स्कोर 33-25 था.

लेकिन इसी बीच अजिंक्य कापरे ने शानदार रेड के जरिए बंगाल वॉरियर्स के चार खिलाड़ियों को ऑलआउट कर चार अंक हासिल कर लिए. इससे मुंबा का स्कोर 29-33 हो गया. मुंबा ने जल्द बंगाल को ऑलआउट कर दिया और स्कोर को 33-35 तक पहुंचा दिया.

ICC ने भ्रष्टाचार के आरोप में UAE के 3 क्रिकेटर्स को किया सस्पेंड

मैच समाप्त समाप्त होने में अब दो मिनट का ही समय बचा था और बंगाल की टीम के पास दो अंकों की बढ़त थी, लेकिन मुंबा ने लगातार दो अंक लेकर 35-35 से बराबरी कर ली. अंतिम मिनट में बंगाल के पास एक अंक की बढ़त थी और उसने अर्जुन देशवाल को टैकल करके एक अंक और हासिल कर लिया तथा 37-35 से मैच जीतकर फाइनल में प्रवेश कर लिया.

विजेता बंगाल के लिए सुकेश हेगड़ेे  ने आठ और मोहम्मद नबी बक्श ने पांच अंक लिए. मुंबा के लिए अभिषेक सिंह ने सुपर-10 लगाते हुए 11 अंक लिए. वहीं, संदीप नरवाल को पांच अंक मिला.