मुंबई: पहले हाफ में सात अंकों से पिछड़ने के बावजूद पवन सहरावत के 22 अंकों के दम पर बेंगलुरू बुल्स ने शनिवार को फाइनल में गुजरात फॉर्च्यून जाएंट्स को 38-33 से हराकर प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के छठे सीजन का खिताब अपने नाम कर लिया. बेंगलुरू की टीम दूसरी बार फाइनल खेल रही थी और जहां वह इस बार खिताब अपने नाम करने में सफल रही. वहीं, गुजरात की टीम लगातार दूसरी बार खिताब जीतने से चूक गई.

नेशनल स्पोर्ट्स क्लब ऑफ इंडिया (एनएसआईसी) में खेले गए खिताबी मुकाबले के पहले हाफ में बेंगलुरू बुल्स ने अंक लेने की शुरुआत की लेकिन दोनों टीमें पहले पांच मिनट तक 3-3 से और अगले पांच मिनट तक 6-6 से बराबरी पर थीं. आखिरी के 10 मिनट में गुजरात के डिफेंस ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया. टीम मुकाबला समाप्त होने से पांच मिनट पहले तक दो अंकों की अहम बढ़त हासिल कर चुकी थी और उसका स्कोर 10-7 था.

इसके बाद काशीलिंग अडके ने दो अंक लेकर स्कोर 9-11 कर दिया लेकिन के प्रपंजन ने 18वें मिनट में बेंगलुरू को ऑलआउट कर गुजरात को चार अंक दिला दिया. इसकी मदद से गुजरात ने 16-9 से पहला हाफ अपने पक्ष में कर लिया. दूसरे हाफ के पहले पांच मिनट तक गुजरात के पास छह अंकों की बढ़त थी और वह 19-13 से आगे था. इसके बाद 10वें मिनट में बेंगलुरू ने जोरदार वापसी की और उसने स्कोर के फासले को घटाकर 19-21 कर दिया.

एएफसी एशियन कप : थाईलैंड के खिलाफ पहले मुकाबले में जीत से आगाज करना चाहेगा भारत

11वें मिनट में बेंगलुरू ने पवन के शानदार रेड से गुजरात को ऑलआउट कर मैच में पहली बार बढ़त हासिल कर ली और उसका स्कोर 23-22 हो गया. गुजरात ने फिर स्कोर को 23-23 की बराबरी पर ला दिया. 14वें मिनट में रोहित गुलिया ने सुपर रेड लगाकर गुजरात को 27-25 से आगे कर दिया, लेकिन बेंगलुरू ने फिर 16वें मिनट में 29-29 से स्कोर बराबरी पर ला दिया.

NZ Vs SL: तिसारा परेरा के 13 छक्‍के ही नहीं, ये ‘छक्‍का’ भी न्‍यूजीलैंड टीम को जीत से कर सकता था दूर

18वें मिनट में पवन ने बेंगलुरू को दो अंकों की बढ़त दिला दी और वह 31-29 से आगे हो गया. इसी दौरान में बेंगलुरू ने गुजरात को ऑलआउट कर स्कोर 36-30 कर दिया. मैच में अब मात्र एक मिनट का ही समय बचा था और बेंगलुरू ने फिर पांच अंकों की बढ़त बना ली. आखिरी के 15 सेकेंड में बेंगलुरू ने स्कोर 38-33 कर दिया और छठे सीजन में चैम्पियन बनने का गौरव हासिल कर लिया.

पुरस्‍कार राशि विवाद में शूटर मनु भाकर के पिता का बयान, दो साल से टूर्नामेंट खेलने के भी पैसे नहीं मिले मेरी बेटी को

बेंगलुरू के लिए पवन ने इस सीजन में अपने 250 रेड प्वाइंट्स भी पूरे कर लिए. पवन का इस सीजन में यह 13वां सुपर-10 है. बेंगलुरू को रेड से 26, टैकल से सात, ऑलआउट से चार और एक अतिरिक्त अंक मिले. गुजरात के लिए सचिन ने 10 और के प्रपंजन ने पांच अंक लिए. टीम को रेड से 20, टैकल से आठ, ऑलआउट से दो और तीन अतिरिक्त अंक मिले.