चांग्झू (चीन): गत विश्व चैंपियन पीवी सिंधू ने बुधवार को यहां पूर्व ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता ली शुएरुई के खिलाफ आसान जीत के साथ प्रीक्वार्टर फाइनल में जगह बनाई लेकिन साइना नेहवाल महिला एकल के पहले दौर में हार के साथ चीन ओपन सुपर 1000 टूर्नामेंट से बाहर हो गईं. भारत की शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी सिंधू ने सिर्फ 34 मिनट में ली शुएरुई को 21-18 21-12 से हराया. ओलंपिक रजत पदक विजेता सिंधू को दुनिया की 20वें नंबर की खिलाड़ी ली शुएरुई को हराने में अधिक पसीना नहीं बहाना पड़ा. ली शुएरुई के खिलाफ सिंधू की यह चौथी जीत है जबकि तीन मैचों में उन्हें हार का सामना करना पड़ा है.Also Read - मालविका बंसोड़ को हराकर पीवी सिंधु ने जीता सैयद मोदी इंटरनेशनल खिताब

लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साइना को हालांकि दुनिया की 19वें नंबर की खिलाड़ी थाईलैंड की बुसानन ओंगबामरुंगफान के खिलाफ 44 मिनट तक चले मुकाबले में 10-21, 17-21 से हार का सामना करना पड़ा. दुनिया की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी साइना की थाईलैंड की खिलाड़ी के खिलाफ यह लगातार दूसरी हार है. चोटों से उबरने के बाद वापसी कर रही 29 साल की साइना फार्म हासिल करने के लिए जूझ रही हैं. Also Read - Badminton Star Tasnim Mir: ‘तसनीम मीर’ ने बनाया वो रिकॉर्ड जो भारत का कोई और खिलाड़ी नहीं बना सका

भारतीय खिलाड़ी ने सत्र की शुरुआत इंडोनेशिया ओपन में जीत के साथ की लेकिन इसके बाद वह बाकी सत्र में बीडब्ल्यूएफ सर्किट पर किसी प्रतियोगिता के फाइनल में जगह नहीं बना सकी. पुरुष एकल में बी साई प्रणीत ने थाईलैंड के सुपान्यु अविहिंगसेनोन को कड़े मुकाबले में 21-19 21-23 21-14 से हराकर अगले दौर में प्रवेश किया. प्रणव जैरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी की मिश्रित युगल जोड़ी को हालांकि जर्मनी के मार्क लैम्सफस और इसाबेल हर्टरिच की जोड़ी के खिलाफ 12-21 21-23 से शिकस्त झेलनी पड़ी. Also Read - India Open 2022: अश्मिता को PV Sindhu और प्रणॉय को लक्ष्य सेन ने हराकर सेमीफाइनल में की एंट्री