नई दिल्ली: भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी.सिंधु एक बार फिर विश्व बैडमिंटन चैम्पियनशिप में इतिहास रचने से चूक गईं. रविवार को खेले गए महिला एकल वर्ग के फाइनल में स्पेन की कैरोलिना मारिन ने वर्ल्ड नम्बर-3 सिंधु को मात देकर तीसरी बार विश्व चैम्पियनशिप का गोल्ड जीता. पहले गेम में मारिन ने अच्छी शुरुआत की, लेकिन सिंधु ने भी अपने रणनीतिक खेल के साथ मारिन के खिलाफ 3-3 से बराबरी की. इसके बाद भारतीय खिलाड़ी ने स्पेनिश खिलाड़ी के खिलाफ अंक बटोरने शुरू किए और उसे 15-11 से पीछे कर दिया.Also Read - PV Sindhu का ऐतिहासिक रैकेट, PM Narendra Modi कर रहे नीलाम, बहुत खास है मकसद

Also Read - Deepika Padukone ने PV Sindhu के साथ खेला बैडमिंटन, फैन्स बोले- 'बायोपिक की हो रही है तैयारी'!

अपने खेल में तेजी लाते हुए मारिन ने खेल में वापसी की और सिंधु की गलतियों का फायदा उठाते हुए स्कोर 18-18 से बराबर कर लिया. यहां सिंधु ने एक अंक हासिल किया और मारिन के खिलाफ स्कोर 19-20 किया लेकिन दो बार विश्व बैडमिटन चैम्पियनशिप का गोल्ड मेडल जीत चुकी मारिन ने एक अंक हासिल किया और पहले गेम में सिधु को 21-19 से हरा दिया. Also Read - OMG! पी वी सिंधु और दीपिका पादुकोण नज़र आये एक साथ वर्ली में, संजय दत्त भी किए गए स्पॉट | Exclusive Video

दूसरे गेम में सिंधु को वापसी का मौका न देते हुए और मैच पर अपना दबदबा बनाते हुए मारिन ने अंक बटोरने शुरू किए और सिंधु को 11-2 से पीछे किया. मारिन ने सिंधु की हर गलती का फायदा उठाया और उनके खिलाफ अंक बटोरते हुए उन्हें दूसरे गेम में 21-19 से मात देकर खिताबी जीत हासिल की.

विराट कोहली पहली बार बने टेस्ट क्रिकेट में नंबर 1, स्टीव स्मिथ को पछाड़ा

मारिन ने तीसरी बार गोल्ड मेडल जीता है. इससे पहले, उन्होंने साल 2014 और 2015 में गोल्ड अपने नाम किया था. वहीं, सिंधु ने पिछले साल सिल्वर मेडल जीता था. उन्हें फाइनल में जापान की नोजोमी ओकुहारा ने मात दी थी. सिंधु ने इसके अलावा, 2013 और 2014 में ब्रॉन्ज भी जीता है.