ओपनर सिद्धेश वीर (71) और तिलक वर्मा (59) की शतकीय साझेदारी के बाद गेंदबाजों की बेहतरीन गेंदबाजी के दम पर इंडिया अंडर-19 टीम ने न्यूजीलैंड को 120 रन से रौंदकर चतुष्कोणीय अंडर-19 सीरीज के फाइनल में प्रवेश कर लिया है. भारतीय टीम अब तक तीनों मैच जीतकर अजेय है. Also Read - IPL 2021: सीजन शुरू होने से पहले SRH के प्रियम गर्ग ने याद की MS Dhoni की सलाह

INDvSL: टीम इंडिया ने नए साल की शुरुआत जीत से की, दूसरे T20 में श्रीलंका को 7 विकेट से हराया Also Read - IPL 2020: प्रियम गर्ग बोले-अभिषेक वर्मा जब बल्लेबाजी के लिए क्रीज पर उतरे तो मुझे इसलिए दबाव महसूस नहीं हुआ क्योंकि...

भारत की ओर से रखे गए 253 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम 35.5 ओवर में 132 रन पर ढेर हो गई. कीवी टीम की ओर से बैकहम व्हीलर ग्रीनवॉल ने सबसे अधिक 50 रन की पारी खेली. Also Read - महेंद्र सिंह धोनी को देखकर कप्तानी की कला सीखता हूं : प्रियम गर्ग

भारत की ओर से सुशांत मिश्रा और अर्थर्व अनकोलेकर ने 3-3 विकेट चटकाए जबकि विद्याधर पाटिल के खाते में दो विकेट गए.

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला कर निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट पर 252 रन बनाए. सिद्धेश वीर और तिलक वर्मा ने पहले विकेट के लिए 135 रन की साझेदारी कर टीम को धमाकेदार शुरुआत दिलाई.

हालांकि इसके बाद टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए. शाश्वत रावत (39), कप्तान प्रियम गर्ग (19) और शुभांग हेगड़े (नाबाद 26) ही दोहरे अंक में पहुंच सके.

न्यूजीलैंड अंडर-19 का एक समय 12 रन पर 4 विकेट गिर चुके थे

न्यूजीलैंड अंडर-19 टीम का एक समय कुल स्कोर 12 रन पर 4 विकेट था. इसके बाद बैकहम और कप्तान जेसी टेसकोफ (29) ने कुछ देर तक विकेट गिरने का क्रम रोका. दोनों के अलावा 10वें नंबर के बल्लेबाज हेडन डिकसन (12) ही दोहरे अंक में पहुंच सके.

ट्राई सीरीज और टी20 वर्ल्ड कप के लिए महिला टीम का चयन रविवार को, 15 साल की इस युवा पर रहेगी नजर

सिद्धेश वीर को उनकी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया. इससे पहले इंडिया अंडर-19 टीम ने मेजबान दक्षिण अफ्रीका को 66 रन से हराकर इस टूर्नामेंट में जीत से शुरुआत की थी जबकि प्रियम गर्ग की कप्तानी वाली टीम ने अपने दूसरे मैच में जिम्बाब्वे को 89 रन से रौंदा था.