दुनिया भर में फैली कोरोना वायरस महामारी और लागू किए गए लॉकडाउन के बीच सोमवार को टेनिस दिग्गज राफेल नडाल (Rafael Nadal) पहली बार इंस्टाग्राम लाइव सेशन के जरिए फैंस से रूबरू हुए। इतना ही नहीं नडाल ने अपने साथ टेनिस जगत के सीनियर खिलाड़ियों रोजर फेडरर (Roger Federer), एंडी मरे (Andy Murray) और मार्क लोपेज (Marc López) को भी जोड़ा। Also Read - Global day of parents पर सचिन तेंदुलकर की सलाह- इस मुश्किल समय में माता-पिता का ध्यान रखें

चारों खिलाड़ियों ने एक दूसरे से कई सवाल पूछे और फैंस के सवालों का भी जवाब दिया। हालांकि शुरुआत में नडाल को फेडरर को सेशन में जोड़ने के लिए तकनीकि चुनौती का सामना करना पड़ा। Also Read - ट्रेनिंग के लिए कोर्ट पर लौट आए राफेल नडाल; फैंस के साथ शेयर किया अभ्यास का वीडियो

उन्होंने हंसते हुए कहा कि वो यहां काफी संघर्ष कर रहे थे कि कैसे इन टेनिस खिलाड़ियों को बातचीत के लिए सोशल मीडिया पर लाएं। नडाल ने कहा, “जैसा कि आप देख सकते हैं कि मैं हर चीज में मुसीबत में हूं। लेकिन मैं कड़ी मेहनत कर रहा हूं।” Also Read - आ गया Facebook Shop, वर्चुअल दुकान से करें खरीदारी, जानें कैसे...?

जिस पर मरे ने नडाल की चुटकी लेते हुए कहा, “ये कमाल है..वो 52 फ्रेंच ओपन जीत सकते हैं, लेकिन इंस्टाग्राम नहीं चला सकते।”

बाएं हाथ से टेनिस क्यों खेलते हैं नडाल

पांच मिनट के बाद नडाल फेडरर को लाइव सेशन में जोड़ने में सफल रहे। फेडरर ने आते ही सबसे पहला सवाल पूछा कि नडाल बाएं हाथ से क्यों खेलते हैं?

फेडरर ने पूछा, “एक बात मैं पूछना चाहता हूं क्योंकि ये मुझे काफी समय से परेशान कर रही है, कि क्या तुम बाएं हाथ से खेलते हो। ये मेरे लिए हमेशा परेशानी की वजह रही है। अगर तुम दाएं हाथ का इस्तेमाल करते हो तो फिर बाएं हाथ से क्यों खेलते हो?”

जवाब में नडाल ने कहा, “मैं दाएं हाथ से नहीं खेल पाता हूं। ये हमेशा से ही है, मैं दाएं हाथ से लिख सकता हूं। बॉस्केटबॉल भी मैं दाएं हाथ से खेल लेता हूं लेकिन टेनिस कोर्ट या फुटबॉल में नहीं”

घुटने की सर्जरी के बाद बेहतर हैं फेडरर

फेडरर ने इस दौरान फरवरी में हुई घुटनों की सर्जरी के बारे में बताया और कहा कि अब इसमें काफी सुधार है। उन्होंने कहा, “ये ठीक है। पहले छह हफ्ते अच्छे रहे, फिर (सुधार) थोड़ा धीमा रहा। अब ये बेहतर हो रहा है लेकिन मेरे पास अभी काफी समय है। कोई जल्दबाजी नहीं है। आखिर में मैं केवल इसे ठीक होते देखना चाहता हूं। इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि मैं कब वापसी करूंगा। मुझे लगता है कि दूसरी सर्जरी (पहली सर्जरी के मुकाबले) आसान होती है लेकिन मैं तीसरी नहीं करवाना चाहता।”