महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के साथ संन्‍यास लेने के कारण सुरेश रैना (Suresh Raina) को लेकर इन दिनों ज्‍यादा चर्चा नहीं हो रही है लेकिन पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) अपने इस पुराने स्‍टूडेंट को बिलकुल भी भूले नहीं हैं. द वॉल का कहना है कि करीब डेढ़ दशक तक रैना ने भारत के सीमित ओवरों के क्रिकेट में अभूतपूर्व योगदान दिया है. Also Read - IPL 2020 CSK vs DC: जानें कैसे मिली श्रेयस अय्यर को MS Dhoni पर बड़ी जीत, ये है 5 बड़े कारण

राहुल द्रविड़ की कप्तानी में ही  सुरेश रैना ने जुलाई 2005 में श्रीलंका के खिलाफ खेले गए वनडे मैच से अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरूआत की थी. Also Read - HIGHLIGHTS, CSK vs DC: दिल्ली कैपिटल्स की लगातार दूसरी जीत, चेन्नई सुपरकिंंग्स की दूसरी हार

बीसीसीआई ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें द्रविड़ ने कहा, ” सुरेश रैना उन युवा प्रतिभाओं में से एक थे जो 2004 या 2005 के आसपास प्रभावशाली तरीके से उभर रहे थे.” Also Read - IPL 2020, Chennai vs Delhi: दिल्ली-चेन्नई के मुकाबले में इन खिलाड़ियों पर होगी नजर

” वह अंडर-19 क्रिकेट खेल रहे थे और शानदार प्रदर्शन कर रहे थे. आप देख सकते हैं कि उस समय सुरेश भारत के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण खिलाड़ी बन रहे थे और उसके बाद उन्होंने किस तरह से पिछले डेढ़ दशकों तक क्रिकेट खेला.”

पूर्व कप्तान द्रविड़ ने आगे कहा, “सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारत को बहुत सफलता मिली है. भारत के पास जो बड़ी यादें हैं, सुरेश उसका एक बड़ा हिस्सा हैं. भारतीय क्रिकेट में उनका योगदान शानदार रहा है, खासकर सीमित ओवरों के खेल में. वह विश्व कप विजेता और चैंपियंस ट्रॉफी विजेता हैं.”

द्रविड़ ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रैना और अधिक प्रभावशाली हो सकते थे, जैसा कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में हुए हैं.

रैना ने आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते हुए नंबर पर चार पर बल्लेबाजी करते हुए बेहतरीन प्रदर्शन किया है और वह रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली के बाद आईपीएल में सर्वाधिक रन बनाने वाले अब तक के दूसरे बल्लेबाज हैं.

पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “आपको हमेशा यह महसूस हुआ कि सुरेश ने भारत के लिए सभी मुश्किल चीजें की. चाहे वह निचले क्रम में बल्लेबाजी हो या फिर उपरी क्रम में. यह उनकी सफलता को दर्शाता है, जहां उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते की है और उनका बेहतरीन रिकॉर्ड रहा है.”

द्रविड़ ने कहा, “भारत के लिए उन्होंने ज्यादातर निचले क्रम में बल्लेबाजी की. मुश्किल जगह पर फिल्डिंग की, कुछ बेहतरीन गेंदबाजी की.”

रैना ने भी द्रविड़ के वीडियो का जवाब देते हुए इंस्टाग्राम पर लिखा, “इस उत्साहजनक शब्दों के लिए राहुल भाई आपका बहुत-बहुत धन्यवाद. जब मैं बच्चा था तब से आप मेरे प्रेरणा स्रोत रहे हैं. अंतत: आपकी कप्तानी में क्रिकेट करियर की शुरूआत करना मेरे लिए सपने सच होने जैसा था.”

रैना ने कहा, “आपसे अपना पहला वनडे और पहला टेस्ट कैप प्राप्त करना मेरे जीवन का सबसे रोमांचकारी क्षण था. आपने हमेशा मुझे अपने जैसे ही ध्यान रखा. आपने इस संदेश से मेरा दिन खास बना दिया.”