नई दिल्ली: भारतीय दिग्गज बल्लेबाज़ राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के बेटे समित द्रविड़ (Samit Dravid) जूनियर क्रिकेट में अपने कारनामों की वजह से तेज़ी से आगे बढ़ रहे हैं. जूनियर द्रविड़ इस छोटे से उम्र में जिस तरीके से मैदान में रन बना रहे हैं उसे देख कर यही लग रहा है कि वह अपने पिता के नक्शेकदम पर चलने की तैयारी में हैं. समित, जो सिर्फ 14 साल का है, ने दो महीने से कम समय में दूसरा दोहरा शतक जमाया है. Also Read - टीम इंडिया के लिए खास है रोहित शर्मा-विराट कोहली की जोड़ी : कुमार संगकारा

समित ने अंडर -14 अंतर-जोनल टूर्नामेंट में Vice-President’s XI की तरफ से खेलते हुए  Dharwad Zone के खिलाफ दिसंबर में डबल टन स्कोर किया था. उन्होंने अपनी 201 रनों की पारी में 256 गेंदों का सामना किया था और 22 चौके लगाए थे. समित ने एक बार फिर अपने खेल से सबको चौंका दिया है. उन्होंने BTR Shield Under-14 Group I, Division II में माल्या अदिति इंटरनेशनल स्कूल के तरफ से खेलते हुए डबल सेंचुरी लगाई है. Also Read - लॉकडाउन में अंडर-19 खिलाड़ियों को मिली ये सीख, जानिए राहुल द्रविड़ की जुबानी

इस युवा बल्लेबाज़ ने 27 चौके की मदद से 211 रनों की नाबाद पारी खेली. समित के शानदार दोहरे शतक की बदौलत, माल्या अदिति इंटरनेशनल स्कूल ने कुल 386/3 का बड़ा स्कोर बनाया और इस मैच को 132 रनों की बड़ी मार्जिन से जीत लिया. Also Read - राहुल द्रविड़ ने उठाया बड़ा सवाल- टेस्ट मैच के दूसरे दिन खिलाड़ी संक्रमित निकला तो क्या होगा?

आराम करने या रिटायरमेंट का आनंद लेने के बजाय, पूर्व भारतीय कप्तान ने अब तक इस खेल के लिए अपने जूनून को ज़िंदा रखा है. द्रविड़ को 2015 में भारत ए और अंडर 19 टीम के मुख्य कोच के रूप में नियुक्त किया गया था. द्रविड़ ने राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के निदेशक (क्रिकेट) के रूप में भी पदभार संभाला है. इस दिग्गज खिलाड़ी के बेटे ने भी इस राह में अपना कदम रख लिया है.