पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज राणा नावेद उल हसन ने अपनी ही टीम पर आरोप लगाते हुए कहा है कि 2009 में संयुक्त अरब अमीरात में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई वनडे सीरीज में कई सीनियर खिलाड़ी जानबूझकर खराब खेले थे, क्योंकि वो यूनिस खान की कप्तानी से नाखुश थे। Also Read - पाकिस्तान के लाहौर में कोरोना वायरस के 6,70,000 मामले! रिपोर्ट में चौकाने वाला दावा

क्रिकेट पाकिस्तान डॉटकॉम ने एक स्थानीय न्यूज चैनल के हवाले से इसकी खबर दी हैं। राणा ने कहा, “हम 2009 में न्यूजीलैंड के खिलाफ यूएई में दो वनडे मैच हार गए थे क्योंकि कुछ सीनियर खिलाड़ियों ने जानबूझकर अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था।” Also Read - नस्लवाद के खिलाफ आवाज उठाए क्रिकेट जगत, वर्ना वो भी है समस्या का हिस्सा : सैमी

उन्होंने कहा, “मैं नहीं खेला था क्योंकि मैंने यूनिस से कहा था कि ये उनके खिलाफ साजिश थी। ये यूनिस खान के खिलाफ विद्रोह नहीं था। वो एक अच्छे क्रिकेटर थे। मैंने उनके साथ खेला था। लेकिन उनके कप्तान बनने के बाद उनमें बदलाव आए।” Also Read - प्रवासी मजदूरों को खाना-पानी बांटने में जुटे भारतीय गेंदबाज मोहम्मद शमी

पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, “मैं नाम नहीं लूंगा, लेकिन कुछ सीनियर खिलाड़ी थे, जो कप्तान बनना चाहते थे। वो इस पूरे मामले में शामिल थे ताकि अपने लक्ष्य को पूरा कर सकें। इस मामले में हम सात से आठ लोग शामिल थे।”

उन्होंने कहा कि इनमें कई बड़े नाम थे, जो यूनिस के खिलाफ खड़े थे। राणा ने कहा, “हम सभी को एक कमरे में बुलाया गया और निष्ठा की शपथ ली गई। उस कमरे में पाकिस्तान क्रिकेट के कुछ बड़े नाम थे। अगर मैं उनके नाम लूंगा को वह गुस्सा हो जाएंगे।”