नई दिल्ली. कॉमनवेल्थ खेल 2018 के लिए भारतीय महिला हॉकी टीम का एलान हो चुका है. 18 सदस्यीय इस टीम में स्टिक की धाकड़ खिलाड़ियों की पूरी फौज है जो रानी रामपाल की कमान में गोल्ड कोस्ट में हिदुस्तान का मान बढ़ाती दिखेंगी. इस टीम में उप-कप्तानी की जिम्मेदारी भारतीय गोलपोस्ट की रखवाली करने वाली अनुभवी गोलकीपर सविता के हाथों में होगी. सविता को हाल ही में खत्म हुए भारतीय महिला हॉकी टीम के साउथ कोरिया दौरे से आराम दिया गया था, जिसके बाद उनकी कॉमनवेल्थ टीम में वापसी हुई है.

मल्टी स्पोर्ट्स इवेंट कॉमनवेल्थ खेल की शुरुआत 4 अप्रैल से गोल्ड कोस्ट में हो रही है. लेकिन, इसमें भारतीय महिला हॉकी टीम अपने अभियान की शुरुआत 5 अप्रैल से करेगी. कॉमनवेल्थ खेल में रानी एंड कंपनी को ग्रुप ए में रखा गया है. इस ग्रुप में भारत के अलावा मलेशिया, वेल्स, इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका की टीमें हैं.

ग्रुप थोड़ा टफ है लेकिन भारतीय महिला टीम भी जबरदस्त है. टीम में विरोधियों को भारतीय गोलपोस्ट तक पहुंचने से रोकने के लिए दीपिका, सुनीता लकरा, दीप ग्रेस इक्का, गुरजीत कौर और सुशीला चानू जैसे बड़े धुरंधर हैं तो वहीं मिडफील्ड की जिम्मेदारी संभालने के लिए मोनिका, नामिता, टोप्पो, निक्की प्रधान, नेहा गोयल और लिलिमा मिन्ज जैसे चेहरे हैं. अब बात टीम के सबसे महत्वपूर्ण अंग यानी विरोधियों पर धावा बोलने वाले खिलाड़ियों की. इसके लिए भारतीय खेमें में खुद कप्तान रानी के अलावा वंदना कटारिया, लालरेमशियामी, नवजोत कौर, नवनीत कौर और पुनम रानी जैसे फॉरवर्ड हैं.

वर्ल्ड हॉकी में भारतीय महिला टीम का दर्जा इस वक्त 10वें नंबर की टीम का है. लेकिन अपने ग्रुप में इनका मुकाबला जिन टीमों से होना है , उनमें वर्ल्ड नंबर 2 इंग्लैंड की टीम भी शामिल है. यानी ग्रुप स्टेज पर रानी एंड कंपनी के लिए सबसे बड़ा खतरा इंग्लैंड है.

खास बात ये है कि भारतीय महिला हॉकी टीम ने 2002 के कॉमनवेल्थ खेल में गोल्ड मेडल मेजबान इंग्लैंड की टीम को ही हराकर जीता था. इसके बाद महिला हॉकी टीम ने 4 साल बाद 2006 में ऑस्ट्रेलिया में हुए कॉमनवेल्थ में सिल्वर मेडल जीता. हालांकि, टीम फिर 2010 और 2014 के कॉमनवेल्थ गेम्स में 5वें पायदान तक ही पहुंच पाई.

यानी एक लंबे अंतराल से हिंदुस्तान को महिला हॉकी में कोई पदक का इंतजार है. और, उम्मीद है कि गोल्ड कोस्ट में रानी की टीम भारतीयों के इस इंतजार को खत्म करके ही दम लेगी.

कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 के लिए भारतीय टीम

गोलकीपर: सविता (उप-कप्तान), रजनी

डिफेंडर: दीपिका, सुनीता लकरा, दीप ग्रेस इक्का, गुरजीत कौर, सुशीला चानू

मिडफील्डर: मोनिका, नामिता, टोप्पो, निक्की प्रधान, नेहा गोयल, लिलिमा मिन्ज

फॉरवर्ड : रानी रामपाल (कप्तान), वंदना कटारिया, लालरेमशियामी, नवजोत कौर, नवनीत कौर , पुनम रानी