भारतीय महिला हॉकी टीम रानी रामपाल की अगुआई में 3 बार ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुकी है. महिला टीम ने पिछले साल रानी की कप्तानी में एफआईएच सीरीज फाइनल्स जीता था. इसमें रानी को टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया था. Also Read - National Sports Awards 2020: क्या Hitman रोहित शर्मा को चुनौती दे पाएगी महिला 'तिकड़ी'

इस खिलाड़ी के लिए गुरुवार का दिन शानदार रहा. वह विश्व की पहली हॉकी खिलाड़ी बन गई हैं जिन्होंने प्रतिष्ठित ‘वर्ल्ड गेम्स एथलीट ऑफ द ईयर’ पुरस्कार जीता. Also Read - हॉकी इंडिया के वार्षिक पुरस्कार की दौड़ में मनप्रीत और रानी रामपाल शामिल

‘द वर्ल्ड गेम्स’ ने विश्व भर के खेल प्रेमियों द्वारा 20 दिन के मतदान के बाद गुरुवार को विजेता की घोषणा की. उसने बयान में कहा, ‘भारतीय हॉकी की सुपरस्टार रानी ‘वर्ल्ड गेम्स एथलीट ऑफ द ईयर 2019’ हैं.’ Also Read - अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को अपनी बायोपिक में देखना चाहती है ये खिलाड़ी


रानी को 1 लाख 99 हजार 4 सौ 77 वोट मिले 

इसमें कहा गया है, ‘रानी 199,477 मतों की प्रभावशाली संख्या के साथ वर्ष की खिलाड़ी बनने की दौड़ में स्पष्ट विजेता के रूप में उभरी. इसमें जनवरी में 20 दिनों में विश्व भर के खेल प्रेमियों ने अपने पसंदीदा खिलाड़ी के लिये मतदान किया. इस दौरान कुल 705,610 मत पड़े.’

‘मैं यह पुरस्कार पूरे हॉकी समुदाय, मेरी टीम और देश को समर्पित करती हूं’

हाल में पदमश्री पुरस्कार के लिए चुनी गईं रानी ने कहा, ‘मैं यह पुरस्कार पूरे हॉकी समुदाय, मेरी टीम और मेरे देश को समर्पित करती हूं. यह सफलता हॉकी प्रेमियों, प्रशंसकों, मेरी टीम, प्रशिक्षकों, हॉकी इंडिया, मेरी सरकार, बॉलीवुड के मित्रों, साथी खिलाड़ियों और देशवासियों के प्यार और समर्थन से ही संभव हो पायी जिन्होंने मेरे लिए लगातार वोट किया.’

उन्होंने कहा, ‘एफआईएच का मुझे इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए नामित करने के लिए विशेष आभार. वर्ल्ड गेम्स फेडरेशन का इस सम्मान के लिए आभार.’

25 खिलाड़ियों को नामित किया गया था

इस पुरस्कार के लिए विभिन्न खेलों के 25 खिलाड़ियों को नामित किया गया था. एफआईएच ने रानी के नाम की सिफारिश की थी. अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने ट्वीट करके रानी को बधाई दी.

पुरस्कार की इस दौड़ में उक्रेन के कराटे खिलाड़ी स्टेनिसलाव होरुना दूसरे स्थान पर जबकि कनाडा की पावरलिफ्टिंग विश्व चैंपियन रिया स्टिन तीसरे स्थान पर रहीं.