Ranji Trophy Group B Mumbai vs Baroda: डोप टेस्ट में फेल होने के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की ओर से 8 महीने का निलंबन झेल चुके युवा ओपनर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) का घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन जारी है। पृथ्वी ने बैन के बाद पहला शतक ठोककर आगामी न्यूजीलैंड दौरे के लिए अपनी दावेदारी ठोक दी है.

निर्णायक T20 में इस प्लेइंग इलेवन के साथ उतर सकती है टीम इंडिया

वडोदरा में जारी रणजी ट्रॉफी ग्रुप बी मुकाबले के तीसरे दिन (बुधवार को) पृथ्वी ने मुंबई की ओर से खेलते हुए बड़ौदा (BDAvMM) के खिलाफ दूसरी पारी में 84 गेंदों पर शानदार शतक लगाया. उन्होंने पहली पारी में 62 गेंदों पर 66 रन की पारी खेली थी. पृथ्वी के फर्स्ट क्लास करियर की ये 9वीं सेंचुरी है.

वानखेड़े T20 में कोहली, रोहित और चहल बना सकते हैं ये कीर्तिमान

शॉ ने बड़ौदा के गेंदबाजों की जमकर बखिया उधेड़ी. लंच तक पृथ्वी 12 चौकों और चार 4 छक्कों की मदद से नाबाद 122 रन बना चुके थे. पृथ्वी ने अपनी इस बेहतरीन पारी से आगामी न्यूजीलैंड दौरे के लिए टीम इंडिया में तीसरे टेस्ट ओपनर के रूप में दावा ठोक दिया है.

41 बार की रणजी चैंपियन मुंबई को पहली पारी में 124 रन की बढ़त प्राप्त है. मुंबई ने पहली पारी में 431 रन बनाने के बाद बड़ौदा को तीसरे दिन सुबह 307 रन पर रोक दिया.

दूसरी पारी में भी मुंबई के बल्लेबाजों ने विपक्षी गेंदबाजों की जमकर खबर ली. मेहमान मुंबई ने लंच तक 314 रन की बढ़त से पहले सुबह के सेशन में महज एक विकेट गंवाया. मुंबई अपनी दूसरी पारी में  लंच तक एक विकेट पर 190 रन बना चुकी है.

पृथ्वी ने हाल में अपना 20वां जन्मदिन मनाया है. पृथ्वी ने हाल में संपन्न सैयद मुश्ताक अली टी-20 ट्रॉफी में बेहतरीन प्रदर्शन किया था.

विंडीज के खिलाफ की थी टेस्ट करियर की शुरुआत

पृथ्वी ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछले साल की थी. उन्होंने अपने डेब्यू टेस्ट में शतकीय पारी खेली थी. दूसरे टेस्ट में भी वह अर्धशतक लगाने में सफल रहे. ऑस्ट्रेलिया के पिछले दौरे पर शॉ अभ्यास मैच में चोटिल हो गए थे.