हैदराबाद के गेंदबाजों ने ऐतिहासिक गेंदबाजी करते हुए रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-सी मुकाबले में हिमाचल प्रदेश की पहली पारी मात्र 36 रनों पर ढेर कर दी। हालांकि हैदराबाद भी मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को खेल बंद होने तक 99 रनों पर अपने सात विकेट गंवा चुका है। मैच के दूसरे दिन कुल 15 विकेट गिरे। पहले दिन खराब मौसम के कारण सिर्फ 4.1 ओवरों का खेल हो सका था। लेकिन मात्र आठ रन पर दो विकेट गंवा चुकी हिमाचल प्रदेश की टीम दूसरे दिन जैसे रेत का ढेर साबित हुई। यह भी पढ़े: भारत-न्यूजीलैंड सीरीज के बाद इन खिलाड़ियों पर गिर सकती है गाज Also Read - हिमाचल प्रदेश में जबरदस्त बर्फबारी, अटल सुरंग के पास 300 पर्यटक फंसे, पुलिस ने बचाया

Also Read - Himachal Pradesh 10th 12th Board Exam: हिमाचल प्रदेश में 10वीं 12वीं बोर्ड परीक्षा की तारीख घोषित, जानें कब से हैं एग्जॉम

हिमाचल प्रदेश की ओर से एक भी बल्लेबाज दहाई तक नहीं पहुंच सका और पांच बल्लेबाज तो खाता तक नहीं खोल सके। आखिरी के बल्लेबाजों को एक-एक कर ढहाने वाले आकाश भंडारी ने मात्र तीन ओवरों में बिना एक भी रन दिए चार विकेट अपने नाम किए। रवि किरन ने तीन, चामा मिलिंद ने दो और मोहम्मद सिराज ने एक विकेट हासिल किया। Also Read - VVS Laxman बोले-कप्तानी से व्यक्तिगत प्रदर्शन पर नहीं पड़ेगा असर, अतिरिक्त जिम्मेदारी बेहतर करने को करती है प्रेरित

हैदराबाद की टीम हालांकि अपने गेंदबाजों की मेहनत का फायदा नहीं उठा सकी। हिमाचल प्रदेश के कप्तान ऋषि धवन ने शानदार गेंदबाजी करते हुए लगातार विकेट चटकाए। ऋषि ने अकेले 89 के स्कोर तक हैदराबाद के छह बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखा दी थी।

दिन का आखिरी और हैदराबाद का सातवां विकेट गुरविंदर सिंह ने लिया।

हैदराबाद की ओर से तीसरे क्रम पर बल्लेबाजी करने उतरे बालचंदर अनिरुद्ध संघर्ष करने वाले एकमात्र बल्लेबाज रहे। वह 44 रन बनाकर नाबाद हैं।