लखनऊ: उत्तर प्रदेश की बेहतरीन गेंदबाजी के सामने सौराष्ट्र अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल मैच में पहली पारी में मुश्किल में दिख रही है. बुधवार को दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक उसने अपनी पहली पारी में सात विकेट के नुकसान पर 170 रन बना लिए हैं. उत्तर प्रदेश ने अपनी पहली पारी में 385 रन बनाए हैं. इस लिहाज से सौराष्ट्र अभी भी मेजबान टीम से 215 रन पीछे है.

उत्‍तर प्रदेश ने दिन की शुरुआत सात विकेट के नुकसान पर 340 रनों के साथ की थी. पहले दिन के नाबाद बल्लेबाज सौरभ कुमार ने अपना अर्धशतक पूरा किया. उन्होंने 83 गेंदों पर सात चौकों की मदद से 55 रन बनाए. उनके साथ पहले दिन नाबाद लौटने वाले शिवम मावी ने 80 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 42 रनों का योगदान दिया. इन दोनों के अलावा रिकू सिंह ने मेजबान टीम के लिए 181 गेंदों पर 19 चौकों की मदद से 150 रनों की पारी खेली.

रणजी ट्रॉफी क्‍वार्टर फाइनल: केरल को मिला जीत के लिए 195 रनों का लक्ष्‍य, वसीम जाफर का एक और शतक

अपनी पहली पारी खेलने उतरी सौराष्ट्र को 35 रनों के कुल स्कोर पर पहला झटका लगा. स्मित पटेल (16) अंकित राजपूत का शिकार बने. इसी स्कोर पर अंकित ने विश्वराज जडेजा को भी पवेलियन की राह दिखाई. हाल ही में ऑस्ट्रेलियाई दौर पर अपने बल्ले की चमक बिखेरने वाले चेतेश्वर पुजारा सिर्फ 11 रन ही बना सके और युवा गेंदबाज मावी का शिकार बने.

रणजी ट्रॉफी क्‍वार्टर फाइनल: राजस्‍थान के खिलाफ विनय कुमार ने कर्नाटक को दिलाई बढ़त

विकेटों के गिरते सिलसिले के बीच हार्विक देसाई हालांकि एक छोर पर खड़े हुए थे. देसाई ने 143 गेंदों पर 13 चौकों की मदद से 84 रनों की पारी खेली. उन्हें मावी ने 151 के कुल स्कोर पर आउट किया. दिन का खेल खत्म होने तक प्रेरक मांकड 42 और धर्मेद्रसिंह जडेजा नौ रन बनाकर खेल रहे थे. उत्तर प्रदेश के लिए मावी ने तीन विकेट लिए. अंकित और यश दयाल ने दो-दो सफलताएं हासिल कीं.