वायनाड (केरल): भारतीय तेज गेंदबाज उमेश यादव की करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की मदद से मौजूदा चैंपियन विदर्भ ने गुरुवार को मेजबान केरल को पहली पारी में 106 रन पर ढेर कर दिया. रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल के पहले दिन का खेल खत्‍म होने तक विदर्भ ने 65 रनों की बढ़त भी हासिल कर ली.

विदर्भ ने पहले दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में पांच विकेट पर 171 रन बनाए. विदर्भ की पारी का आकर्षण फैज फजल की 75 रन की पारी रही. उमेश ने 48 रन देकर सात विकेट लिए जो उनके फर्स्‍ट क्‍लास करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. इससे पहले उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 74 रन देकर सात विकेट था. बाकी तीन विकेट रजनीश गुरबाणी (38 रन देकर तीन) ने लिए. विदर्भ ने केवल तीन गेंदबाजों का इस्तेमाल किया.

विदर्भ ने टॉस जीतकर केरल को पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाया और उमेश ने हावी होने में देर नहीं लगाई. केरल के बल्लेबाजों के पास सटीक लाइन लेंथ से की गई उनकी गेंदबाजी का कोई जवाब नहीं था. अगर निचले क्रम के बल्लेबाज विष्णु विनोद ने नाबाद 37 रन नहीं बनाए होते तो केरल तिहरे अंक में भी नहीं पहुंच पाता.

कुलदीप ने चहल के लिए बताई अपनी भावनाएं, कहा इस समय आती है आपकी याद

विनोद के अलावा कप्तान सचिन बेबी (22) और बासिल थम्पी (10) ही दोहरे अंक में पहुंचे. विदर्भ ने भी सलामी बल्लेबाज संजय रामास्वामी (19) का विकेट जल्दी गंवा दिया लेकिन इसके बाद फजल और बेहतरीन फॉर्म में चल रहे अनुभवी बल्लेबाज वसीम जाफर (34) ने दूसरे विकेट के लिए 80 रन जोड़े. एमडी निधीश (53 रन देकर दो विकेट) ने जाफर को पवेलियन भेजा.

NZ Vs Ind: केन विलियमसन ने माना, भारत के स्पिनर्स से हारा न्यूजीलैंड लेकिन जल्दबाजी में बदलाव से इंकार

विदर्भ ने दिन के अंतिम क्षणों में एक रन के अंदर तीन विकेट गंवाए जिनमें फजल भी शामिल थे. फजल को संदीप वारियर (46 रन देकर दो विकेट) ने विकेट के पीछे कैच कराया.