चटगांव: दुनियाभर में अपनी गुगली का जादू बिखेरने वाले अफगानिस्तान के खिलाड़ी राशिद खान (Rashid Khan) ने एक बार फिर कमाल करते हुए एक नया रिकॉर्ड अपने नाम किया है. राशिद टेस्ट क्रिकेट के सबसे युवा कप्तान बन गए हैं. 20 साल और 350 दिन के राशिद ने ये उपलब्धि बांग्लादेश के खिलाफ चल रहे टेस्ट मैच में हासिल किया है. अफगान स्टार राशिद खान ने बतौर टेस्ट कप्तान अपना पहला टॉस जीता और पहले बैटिंग करने का निर्णय लिया.

अफगानिस्तान (Afghanistan) की टीम इन दिनों बांग्लादेश (Bangladesh) के दौरे पर है. दोनों टीमों के बीच गुरुवार से टेस्ट मैच शुरू हुआ. यह अफगानिस्तान का सिर्फ तीसरा टेस्ट मैच है. उसने इससे पहले भारत और आयरलैंड के खिलाफ एक-एक टेस्ट मैच खेला है. भारत के खिलाफ उसे हार का सामना करना पड़ा था. यह उसका पहला टेस्ट मैच भी था. उसने अपने दूसरे टेस्ट मैच में आयरलैंड को सात विकेट से हराया था. यह मैच देहरादून में खेला गया था.

Ashes 2019: जोफ्रा आर्चर पर किए भद्दे कॉमेंटस, फैन्स को निकाला स्टेडियम से बाहर

राशिद खान से पहले सबसे कम उम्र में टेस्ट टीम की कप्तानी करने का रिकॉर्ड जिम्बाब्वे (Zimbabwe) के ततेंदा तायबू (Tatenda Taibu) के नाम था. उन्होंने पहली बार 2004 में श्रीलंका के खिलाफ कप्तानी की थी. उस वक्त उनकी उम्र 20 साल 358 दिन थी. राशिद खान ने बेहद कम अंतर से तायबू का रिकॉर्ड तोड़ा.

सबसे कम उम्र में टेस्ट टीम की कप्तानी करने के मामले में भारतीय रिकॉर्ड नवाब पटौदी (Nawab of Pataudi) के नाम है. मंसूर अली खान पटौदी (Mansur Ali Khan Pataudi) ने यह उपलब्धि 1962 में वेस्टइंडीज के खिलाफ हासिल की थी. नवाब पटौदी जब इस मैच में कप्तानी करने उतरे तो  उनकी उम्र 21 साल 77 दिन थी.

(इनपुट: ANI)

Ashes 2019 Fourth Test: स्मिथ के दोहरे शतक से ऑस्ट्रेलिया मजबूत, दूसरे दिन इंग्लैंड की खराब शुरुआत