बेंगलुरूः दक्षिण अफ्रीका जब भारत आई थी तो उम्मीद थी कि वह टी-20 सीरीज में मेजबान टीम को अच्छी चुनौती देगी. टीम के उप-कप्तान रासी वान डर डुसैन ने कहा मेहमान विश्व की सर्वश्रेष्ठ टीम के खिलाफ हर मैच से कुछ सीख रही है. भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा और आखिरी टी-20 मैच रविवार को बेंगलुरू में खेला जाना है.

टीम इंडिया के खिलाड़ियों को मिला शानदार प्रदर्शन का इनाम, बोर्ड ने लिया ये फैसला

मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में रासी ने कहा कि उनकी टीम के लिए विराट कोहली, रोहित शर्मा और शिखर धवन जैसे विश्व स्तर के खिलाड़ियों के साथ खेलना चुनौती भरा है. उन्होंने कहा, “यह सभी खिलाड़ी विश्व स्तर के खिलाड़ी हैं और शायद टी-20 में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज. विराट और रोहित सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की संख्या में सबसे आगे हैं और यह हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती है.” रासी ने कहा कि आगे के मैचों में हम उन्हें जल्दी आउट करना चाहेंगे.

रोनाल्डो के बेबाक बोल- गोल पोस्ट में बॉल डालने से ज्यादा सुखद है गर्लफ्रेंड के साथ बिताया गया निजी पल

दोनों टीमों के बीच पहला मैच बारिश के कारण धुल गया था. दूसरे मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को सात विकेट से मात दी थी. तीसरा मैच मेहमान टीम के लिए करो या मरो का मुकाबला है. वह यहां से सीरीज तो अपने नाम नहीं कर सकती लेकिन ड्रॉ जरूर करा सकती है.

भारतीय टीम की सुरक्षा सबसे अहम, एसीयू अध्यक्ष ने भेजी चेतावनी

टी-20 टीम के उप-कप्तान ने कहा, “हम जब यहां आए थे तब हम जानते थे कि यह मुश्किल है. भारत निश्चित तौर पर दुनिया की सबसे मजबूत टीम है और हम इस चुनौती लुत्फ उठा रहे हैं. दुर्भाग्यवश पहला मैच रद्द हो गया, लेकिन हमारे पास सीरीज बराबर करने का मौका है.” डुसैन ने कहा कि हमेशा हारने का डर नहीं रहता आप जिंदगी में कभी कभी चुनौतियों से सीखते भी हैं.

30 वर्षीय रासी ने कहा कि जब आप विश्व की सर्वोच्च टीम के सामने होते हैं तो आपको एक ऐसी रणनीति की जरूरत होती है जो आपको जिता सके. उन्होंने कहा कि रविवार को होने वाले मैच में हम सभी की यही कोशिश होगी कि हम सीरीज को ड्रा करा सके.