कोलंबो। भारतीय कोच रवि शास्त्री ने टीम के साथ दूसरे कार्यकाल में खिलाड़ियों की तैयारी के स्टाइल में थोड़ा बदलाव किया है, हालांकि अभी यह शुरू ही हुआ है लेकिन इसका तुरंत प्रभाव देखा जा सकता है. Also Read - WATCH: मैदान पर भिड़े विराट कोहली-बेन स्टोक्स; अंपायर को रोकना पड़ा झगड़ा

शास्त्री ने जो कुछ अहम चीजें लागू की हैं, उसमें यह बात महत्वपूर्ण है कि कैसे बल्लेबाज अब मध्यक्रम में बल्लेबाजी के लिये तुरंत तैयार रहते हैं. बल्लेबाजी क्रम से इसका कुछ लेना देना नहीं है, बल्कि मध्यक्रम में बल्लेबाजी के लिए उतरने से पहले ‘वार्मिंग अप’ में नयापन लाया गया है. Also Read - India vs England 4th Test, Day 1 Highlights: पहले दिन का खेल खत्म, Rohit Sharma-Cheteshwar Puajara नाबाद लौटे

गाले में ही यह साफ हो गया जब शिखर धवन और अभिनव मुकुंद की भारतीय जोड़ी पहले टेस्ट में टीम के अन्य सदस्यों से पहले मैदान पर पहुंची. इसका मकसद यही था कि नेट पर पहुंचो और गेंद हिट करना शुरू करो क्योंकि भारत पहले बल्लेबाजी भी कर सकता है. Also Read - India vs England: आलोचना झेल रहे अजिंक्य रहाणे-चेतेश्वर पुजारा के समर्थन में उतरे कप्तान कोहली

इस मैच में कोहली ने टॉस जीता और अच्छा वार्म अप करने वाले धवन ने पहली पारी में 168 गेंद में 190 रन बनाए. जब तक सलामी बल्लेबाज पवेलियन पहुंचे, चेतेश्वर पुजारा ने यह बदला हुआ अपना रूटीन पूरा कर लिया जबकि विराट कोहली नेट पर थे. यह निश्चित रूप से पिछली बार से अलग तरह का प्रयोग था और टीम का इसमें स्वागत किया गया.

कोच शास्त्री ने यह नई प्रक्रिया इसलिये शुरू की कि टीम को मैदान पर भी अपना नंबर एक का दर्जा दिखाना चाहिए.