भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने एक बार फिर अपनी यादों का पिटारा खोला है और इस बार इस पिटारे में रणजी ट्रॉफी के दिग्गज बल्लेबाज अमोल मजूमदार (Amol Muzumdar) की फोटो निकली है। शास्त्री ने शुक्रवार को मजमूदार के साथ की एक पुरानी फोटो शेयर की है और लिखा है कि मजूमदार का अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर टेस्ट ना खेलना भारत का नुकसान था।Also Read - टेस्ट क्रिकेट को पूजते हैं Virat Kohli, इसलिए लाल गेंद फॉर्मेट में सफल: Ravi Shastri

Also Read - एशेज में बड़ी भूमिका निभाएंगे बेन स्टोक्स लेकिन वर्कलोड मैनेज करना होगा जरूरी: जो रूट

शास्त्री ने फोटो ट्वीट कर लिखा, रणजी ट्रॉफी के दिग्गज खिलाड़ी के साथ एक फोटो- अमूल मजूमदार। मेरा अंतिम सीजन उनका पहला सीजन था। मुझे अभी भी लगता है कि मजूमदार का टेस्ट क्रिकेट ना खेलना भारत का नुकसान था।” Also Read - पहले एशेज टेस्ट के लिए मिशेल स्टार्क की जगह झाय रिचर्डसन को प्लेइंग इलेवन में होना जाना चाहिए था: जॉनसन

मजूमदार का घरेलू क्रिकेट का सफर शानदार रहा है। 20 साल के अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में उन्होंने 11,000 रन बनाए हैं जिसमें 30 शतक शामिल हैं। उन्हें बीसीसीआई, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और लंकाशायर तथा यार्कशायर के माध्यम से ग्रेट ब्रिटेन से भी कोचिंग सर्टिफिकेट मिले हुए हैं।

पिछले साल जब दक्षिण अफ्रीका भारत दौरे पर आई थी तब मजूमदार को मेहमान टीम ने अपना बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया था। इसके अलावा वो नीदरलैंड्स के बल्लेबाजी कोच भी रह चुके हैं और अब आईपीएल टीम राजस्थान रॉयल्स के भी बल्लेबाजी कोच हैं।