नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड के बीच जिस ऐतिहासिक पल का इंतजार सभी क्रिकेट फैंस को था, आखिरकार वो घड़ी करीब आ गई है. दोनों टीमों के बीच 5 टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट के लिए एजबेस्टन का मैदान सज चुका है. इस टेस्ट में पास होने के लिए दोनों टीमें पसीना भी खूब बहा रही हैं , यानी जीत के लिए एड़ी चोटी का जोर लगता भी दिखेगा. अब इसमें बाजी मारेगा कौन, जीत किसके गले का हार बनेगी, ये तो बाद की बात है. लेकिन, उस निष्कर्ष तक पहुंचने से पहले टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री में टेस्ट सीरीज को लेकर अपने पत्ते जरूर खोल दिए हैं. कोच रवि शास्त्री ने 3 ऐसे फैक्टर सुझाएं हैं जो टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया के लिए ब्रम्हास्त्र का काम कर सकते हैं और इंग्लैंड को घुटने टेक कर सरेंडर करने के लिए मजबूर कर सकते हैं.Also Read - IND vs NZ: शतक जड़कर बोले Mayank Agarwal, Sunil Gavaskar के Video देख बनाए रन

Also Read - India vs New Zealand- दूसरे टेस्ट में शतक जड़ छाए Mayank Agarwal, न्यूजीलैंड के Ajaz Patel ने भी भारत को हिलाया

गेंदबाजी आक्रमण Also Read - Highlights IND vs NZ, 2nd Test Day 1: मयंक अग्रवाल के शतक से स्टंप तक भारत का स्कोर 221/4

रवि शास्त्री मानते हैं कि उनकी टीम की गेंदबाजी लाइन-अप में 20 विकेट लेने की क्षमता है, फिर चाहे कंडीशन जैसी भी हो. उन्होंने कहा कि उनकी गेंदबाजी यूनिट में वैराइटी खूब है बस उसे मैदान पर अमलीजामा पहनाने की देर है. कोच ने अपनी टीम की बॉलिंग यूनिट को लेकर ये दम तब भरा है जब उसके पास स्ट्राइक बॉलर भुवनेश्वर कुमार नहीं है. लेकिन जैसा कि इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज डैरेन गॉ भी मानते हैं कि मौजूदा भारतीय बॉलिंग यूनिट भुवी की भरपाई करने में सक्षम है.

इंग्लैंड के हालात में ढलना

भारत का इंग्लैंड दौरा शुरू होने से पहले कोच रवि शास्त्री ने दौरे के शेड्यूल की जमकर तारीफ की थी और कहा था कि इससे उन्हें टेस्ट सीरीज की तैयारियों के लिए भरपूर वक्त मिलेगा. दरअसल, इस दौरे पर पहले T20, फिर वनडे और उसके बाद टेस्ट सीरीज खेली जा रही है. यही वजह है कि टीम इंडिया को इंग्लैंड के मौसम से मिजाज मिलाने का लंबा समय मिला है. कोच रवि शास्त्री इसे टीम इंडिया के लिए बड़े एडवांटेज के तौर पर देख रहे हैं. उन्होंने ये भी कहा कि कुछ भारतीय खिलाड़ी तो इंग्लैंड में और भी पहले से हैं और ये सब हमें इंग्लैंड के साथ दो-दो हाथ करने का बराबरी का मौका देती हैं.

कोहली के प्रदर्शन से खुश हैं कोच, कहा ‘टेस्ट सीरीज में कोई नहीं रोक पाएगा’

आक्रामक क्रिकेट

कोच रवि शास्त्री की मानें तो ये टीम इंडिया का सबसे बड़ा हथियार है. दरअसल, शास्त्री का खुद भी दबंग अंदाज रहा है और यही चीज उन्होंने टीम इंडिया में भी कोचिंग की कमान संभालने के बाद कूट-कूट कर भर दी है. इसी के बूते भारतीय टीम ने इस साल के शुरुआत में साउथ अफ्रीका को उसके घर में रौंदा था और अब साल के मिड में इंग्लैंड को उसके घर में हराकर इतिहास रचने मैदान पर उतरेगी.