नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने बुधवार को अपनी टीम से कहा कि वह आगामी दक्षिण अफ्रीका दौरे पर मिलने वाली चुनौतियों को स्वीकार करें. उन्होंने कहा कि टीम ने इस दौरे के लिए अच्छी तैयारी की है. भारत तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज के लिए दक्षिण अफ्रीका जा रहा है. दौरे का पहला टेस्ट मैच पांच जनवरी से खेला जाएगा. Also Read - टीम इंडिया के कोच शास्त्री ने लगावाई कोविड-19 वैक्सीन, ट्विटर पर पोस्ट की तस्वीर

शास्त्री ने दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए टीम के रवाना होने से पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा, “हम जानते हैं कि दक्षिण अफ्रीका का दौरा कितना मुश्किल है. यह इस पेशे की खासियत है. आप चुनौती का इंतजार करें और उसे स्वीकर करें, हम इसके लिए तैयार हैं.” Also Read - Dhanashree Verma Photos: Maldives Vacation से फिर आई धनाश्री वर्मा और Yuzvendra Chahal की तस्वीरें, शेयर के साथ ही वायरल हुईं समंदर किनारे की ये खूबसूरत PICS

उन्होंने कहा, “हमने 2014 में आस्ट्रेलिया का दौरा किया था और वहां अच्छा प्रदर्शन किया था. हमने इंग्लैंड में भी अच्छा किया था. 2015 में हम श्रीलंका गए और वहां विकेट शानदार थे, जहां गेंद सीम और स्विंग दोनों हो रही थी. हमारी तैयारी अच्छी है.” Also Read - Dhanashree Verma Photos: मालदीव में छुट्टियां Enjoy कर रहे Yuzvendra Chahal, समंदर किनारे चिल करते वायरल हुईं Dhanashree Verma की तस्वीरें...

यह भी पढ़ें: भारत के सीनियर क्रिकेटरों ने कहा, अंडर 19 विश्व कप की अहमियत बढ़ी

शास्त्री ने कहा कि खिलाड़ी पिछले कुछ वर्षो से साथ हैं और इससे उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा, “यह खिलाड़ी पिछले 4-5 वर्षो से साथ हैं. यह वही टीम है. इस टीम की जड़ें पुरानी ही हैं तो इससे लंबे समय में मदद मिलेगी.”

पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, “आने वाले डेढ़ साल भारतीय क्रिकेट की असल कहानी कहेंगे. दक्षिण अफ्रीका, आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के दौरों पर हमें जाना है. 18 महीनों बाद यह शानदार टीम होगी.”

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली इस सीरीज से वापसी करेंगे. उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ खेली गई टी-20 और वनडे सीरीज में आराम लिया था. कप्तान ने कहा कि टीम सही रास्ते पर है और उन्हें अपनी टीम की काबिलियत पर पूरा भरोसा है. कई लोगों ने कहा है कि भारत के लिए यह सबसे मुश्किल दौरा है. इस पर कोहली ने कहा, “क्रिकेट बल्ले और गेंद से खेला जाता है. परिस्थितियां मायने नहीं रखतीं. मुझे टीम की काबिलियत में पूरा भरोसा है. हम सही रास्ते पर हैं.”

यह भी पढ़ें: वनडे में कोहली से बेहतर हैं रोहित: संदीप पाटिल

दक्षिण अफ्रीका में खिलाड़ियों को अतिरिक्त उछाल झेलना पड़ेगा. वहां का मौसम भी भारतीय उप-महाद्वीप की तुलना में अलग है.

भारतीय कप्तान ने कहा, “आपको विदेशों में जीतने के लिए लंबे समय तक क्रिकेट खेलनी होती है. इस समय भी हमारी भूख वही है. हम वो करना चाहते हैं जो हम पिछली बार नहीं कर पाए.”

कोहली ने हाल ही में बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा से शादी की है. उन्होंने अपना आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच श्रीलंका के खिलाफ खेला था. उनसे जब वापस क्रिकेट की तरफ रुख करने वाली पेशानियों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ऐसा करना मुश्किल नहीं है.

दिल्ली के बल्लेबाज ने कहा, “मैं उस चीज के लिए दूर गया था जो मेरी जिंदगी में जरूरी है, लेकिन मैं अभ्यास कर रहा था. क्रिकेट की तरफ वापस रुख करना बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है. क्रिकेट मेरे खून में है.”

कोहली ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के हालात से तालमेल बिठाने में ज्यादा परेशानी नहीं आएगी. उन्होंने कहा, “हमारे पास हालात से तालमेल बिठाने के लिए काफी समय है. टेस्ट की परिस्थितियों को जानने के लिए दो-तीन सत्र हैं और हमें पता चल जाएगा कि दिन के सत्र में परिस्थितियां कैसी होती हैं.”