भारत के स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने शुक्रवार को कोलंबो टेस्ट के दूसरे दिन श्रीलंका के खिलाफ हाफ सेंचुरी बनाकर एक अनोखा डबल अपने नाम किया. अश्विन ने इस हाफ सेंचुरी की मदद से अपने 51वें टेस्ट की 71वीं पारी में अपने 2000 टेस्ट रन पूरे किए और उन्होंने टेस्ट मैचों में 200 विकेट और 2000 रन का अनोखा डबल पूरा करने का रिकॉर्ड बना दिया. साथ ही अश्विन टेस्ट क्रिकेट में 200 विकेट और 2000 रन का डबल पूरा करने वाले कपिल देव, अनिल कुंबले और हरभजन सिंह के बाद चौथे भारतीय बन गए.Also Read - कप्तान कोहली ने बताया युजवेंद्र चहल को टी20 विश्व कप स्क्वाड से बाहर रखने का कारण

अश्विन इसके साथ ही सबसे कम मैचों में 200 विकेट और 2000 रन का डबल पूरा करने वाले दुनिया के तीसरे और भारत के दूसरे क्रिकेटर बन गए. साथ ही अश्विन टेस्ट क्रिकेट में 200 विकेट और 2000 रन का डबल पूरा करने वाले कपिल देव, अनिल कुंबले और हरभजन सिंह के बाद चौथे भारतीय बन गए. अश्विन इस टेस्ट से पहले तक अब तक 279 विकेट ले चुके हैं. Also Read - IPL 2021: Gautam Gambhir ने कर दी वकालत, Ravichandran Ashwin बनेंगे Delhi Capitals के नए कप्तान!

सबसे कम टेस्ट मैचों में 2000 रन और 200 विकेट का डबल पूरा करने का रिकॉर्ड इंग्लैंड के महान ऑलराउंडर इयान बॉथम के नाम दर्ज है, जिन्होंने ये उपलब्धि 42 टेस्ट मैचों में हासिल की थी. इसके बाद 50 टेस्ट मैचों में ये उपलब्धि पाकिस्तान के महान तेज गेंदबाज इमरान खान और भारत के महान ऑलराउंडर कपिल देव ने हासिल की थी. अश्विन ने ये उपलब्धि अपने 51वें टेस्ट मैच में हासिल की है. Also Read - अश्विन टेस्‍ट में ही ठीक है, कभी नहीं दूंगा अपनी टी20 टीम में जगह: संजय मांजरेकर

अश्विन के अलावा न्यूजीलैंड के महान तेज गेंदबाज रिचर्ड हैडली ने अपने 54 टेस्ट मैचों में ये डबल पूरा किया था जबकि दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज शॉन पोलाक ने 56 टेस्ट मैचों में ये उपलब्धि हासिल की थी.

अश्विन ने कोलंबो टेस्ट के दूसरे दिन लंच के बाद 91 गेंदों में 5 चौके और 1 छक्के की मदद से अपने टेस्ट करियर की 11वीं हाफ सेंचुरी बनाई. अश्विन ने हेराथ की गेंद पर छक्का जड़कर अपना अर्धशतक जमाया लेकिन अगली ही गेंद पर वह बोल्ड हो गए. अश्विन गॉल टेस्ट में 50 टेस्ट खेलने वाले भारत के 30वें खिलाड़ी बने थे.

(अभिषेक पाण्डेय द्वारा लिखित)