नई दिल्ली : किंग्स इलेवन पंजाब की टीम में भले ही शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी मौजूद हों लेकिन कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने आईपीएल से बाहर होने के बाद कहा कि लोकेश राहुल और क्रिस गेल की पावरप्ले ओवरों में बल्लेबाजी उनके लिये बड़ी समस्या रही. राहुल ने 13 मैचों में 130 से कम के स्ट्राइक रेट से 522 रन जोड़े हैं जिसमें से छह बार 50 से ज्यादा (एक शतक और पांच अर्धशतक) रन बनाये हैं. गेल ने 12 मुकाबलों में 152 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से 462 रन बनाये हैं जिसमें उनका शीर्ष स्कोर 99 रन रहा है. Also Read - मास्क ना खरीद पाने वालों की मदद को आगे आए रविचंद्रन अश्विन; ट्विटर पर किया N95 मास्क बांटने का ऐलान

Also Read - IPL 2021: Ravichandran Ashwin के परिवार पर 'टूटा कोरोना का कहर', घर के 10 सदस्य निकले पॉजिटिव, वाइफ ने की ये अपील

अश्विन ने कोलकाता नाइटराइडर्स से सात विकेट से मैच गंवाने के बाद कहा, ‘‘हम जिन क्षेत्रों में कमजोर हैं, हमें उन पर ध्यान लगाना होगा. इसी तरह की एक चीज पावरप्ले ओवरों में गेंद और बल्ले से प्रदर्शन रहा है. पिछले साल पावरप्ले में हमारी बल्लेबाजी शानदार रही थी, जिसमें क्रिस गेल और लोकेश राहुल ने अच्छा किया था लेकिन इस साल हम उस तरह की अच्छी शुरूआत नहीं कर सके. निश्चित रूप से उन पर दबाव था और उन्हें यह काम करना ही था.’’ Also Read - IPL में भी पहुंची कोरोना वायरस की दहशत, धीरे-धीरे खिलाड़ी होने लगे बाहर

शुभमन के फैन हुए दिनेश कार्तिक, शानदार प्रदर्शन के बाद की तारीफ

उन्होंने कहा, ‘‘हमें अगले साल इसे सुलझाना होगा क्योंकि हमने ज्यादातर मैच पावरप्ले जंग में ही गंवाये हैं. यह बड़ी समस्या रही.’’ बता दें कि किंग्स इलेवन पंजाब इस समय पॉइंट टेबल में 7वें स्थान पर है. टीम ने इस सीजन में 13 मैच खेले और 8 मैचों में हार का सामना किया. पंजाब ने इस सीजन में सिर्फ 5 मैचों में जीत हासिल की. उसके पास फिलहाल 10 पॉइंट्स है. लिहाजा वह प्लेऑफ तक नहीं पहुंच पायेगी.