इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट मैच में करियर का पांचवां शतक लगाने वाले भारतीय स्पिन ऑलराउंडर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने अपनी इस पारी का श्रेय टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर (Vikram Rathour) को दिया। अश्विन ने बताया कि इस पारी के दौरान उन्होंने सालों के बाद स्वीप शॉट खेला, जिसके लिए उन्होंने मैच से पहले लगभग एक हफ्ते तक अभ्यास किया था। Also Read - INDvENG: 2019 से एक भी शतक नहीं बना पाएं हैं विराट कोहली, अब दर्ज हुआ ये शर्मनाक रिकॉर्ड

अश्विन की 106 रनों की शतकीय पारी के दम पर अपनी दूसरी पारी में 286 रनों का स्कोर बनाकर इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 428 रनों का लक्ष्य रखा। इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 53 रन तक अपने तीन विकेट गंवा दिए हैं। Also Read - IND vs ENG: Day 2 Match Report and Highlights: Pant-Sundar ने कराई भारत की वापसी

अश्विन ने तीसरे दिन की खेल समाप्ति के बाद कहा, “पिछले टेस्ट के बाद हम ये सोच रहे थे कि हमें कैसे जैक लीच का सामना करना है और मैंने उनके खिलाफ स्वीप शॉट खेलना शुरू कर दिया। पिछली बार मैंने तब स्वीप शॉट खेला था जब मैं करीब 19 साल का था। उसके बाद से पिछले 13-14 साल से मैंने स्वीप शॉट नहीं खेला था। मैं सात-10 दिन से इस शॉट का अभ्यास कर रहा था और मैं बहुत आभारी हूं कि मेरी ये योजना कारगर रही।” Also Read - India vs England: ऋषभ पंत की बल्लेबाजी के मुरीद हुए सौरव गांगुली, बोले- सभी फॉर्मट में GOAT बनेगा ये खिलाड़ी

अश्विन ने 148 गेंदों पर 14 चौके और एक छक्का लगाया। उन्होंने अपनी बल्लेबाजी में सुधार कर श्रेय भारतीय टीम के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर दिया।

उन्होंने कहा, ” हम विक्रम राठौर के साथ इसका अभ्यास कर रहे हैं। नए विकल्पों को तलाशने में राठौर काफी मददगार रहे हैं। वह उन लोगों में से हैं, जिन्होंने मुझे खुद को साबित करने में मदद की। पिछले चार-पांच टेस्ट मैच में मैंने जिस तरह की बल्लेबाजी की है, इसका पूरा श्रेय उन्हें जाता है।”