इंडियन प्रीमियर लीग 2019 में किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में जब विकेटकीपर जोस बटलर को मांकड़िंग कर आउट किया तो क्रिकेट जगत में एक सालों पुरानी बहस फिर से शुरू हो गई। कई फैंस और समीक्षकों ने अश्विन की आलोचना की लेकिन इस भारतीय स्पिनर का कहना है कि वो आगे भी मांकड़िग करते रहेंगे।Also Read - IPL 2022: लखनऊ फ्रेंचाइजी की कमान संभालेंगे केएल राहुल; मार्कस स्टोइनिस, रवि बिश्नोई भी शामिल

भारतीय टीम से बाहर चल रहे अश्विन ने हाल ही में अपने ट्विटर अकाउंट पर फैंस के साथ एक सवाल-जवाब सेशन का आयोजन किया। इस दौरान एक फैन ने अश्विन से पूछा कि आगामी आईपीएल में वो किन-किन बल्लेबाजों को मांकड़ कर सकते हैं। जिसके जवाब में अश्विन ने कहा कि ‘जो भी क्रीज से बाहर निकलेगा’। Also Read - मैदान पर कभी कभी हो जाती है गर्मागर्मी; जसप्रीत बुमराह के साथ विवाद पर बोले मार्को जेनसन

क्या है मांकड़िंग

इस नियम के हिसाब से अगल गेंदबाज के गेंद फेंकने से पहले नॉन स्ट्राइकर पर खड़ा बल्लेबाज क्रीज से आगे निकल जाता है और गेंदबाज गेंद को विकेट पर लगा दे तो बल्लेबाज को आउट माना जाएगा। इसे डेड बॉल माना जाता है लेकिन बल्लेबाज को रन-आउट होकर वापस लौटना पड़ता है। Also Read - IPL 2022: लखनऊ या अहमदाबाद ने नहीं दी कप्तानी, अब मेगा ऑक्शन में उतरेंगे श्रेयस अय्यर

कब से शुरू हुआ ये नियम

साल 1947 में इस नियम का इजाद हुआ, जब भारतीय गेंदबाज वीनू मांकड़ ने क्रीज से बाहर निकलने पर ऑस्ट्रेलिया के बिल ब्राउन को आउट किया था।

दो सीजन पंजाब फ्रेंचाइजी की कप्तानी करने वाले अश्विन IPL 2020 में दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से युवा बल्लेबाज श्रेयस अय्यर की कप्तानी में खेलते नजर आएंगे।