किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) के सह मालिक नेस वाडिया (Ness Wadia) ने सोमवार को कहा कि उनकी फ्रेंचाइजी ने खिलाड़ियों की अदला बदली में रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) को दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) को नहीं सौंपने का फैसला किया है। पता चला है कि नए मुख्य कोच अनिल कुंबले (Anil Kumble) चाहते हैं कि अश्विन टीम के साथ बने रहें जो पिछले दो सीजन में कप्तान थे।

वाडिया ने पीटीआई से कहा, ‘‘(किंग्स इलेवन पंजाब के) बोर्ड ने पुनर्विचार किया और उसे अहसास हुआ कि अश्विन टीम का अहम हिस्सा हैं। दिल्ली कैपिटल्स के साथ चर्चा हुई थी लेकिन इन चर्चाओं का कोई परिणाम नहीं निकला। वह जिस तरह से क्रिकेट खेलते हैं और उनका प्रदर्शन सब कुछ बयां करता है।’’

वर्ल्‍ड कप में सुपर ओवर को लेकर विवाद के बाद आईसीसी ने बदला नियम

अश्विनी की अगुवाई में किंग्स इलेवन ने पिछले दो सीजन में शुरुआती चरण में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन दोनों अवसरों पर टीम बाद में लय खो बैठी तथा 2018 में सातवें और 2019 में छठे स्थान पर रही।