नई दिल्ली. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज 1-1 की बराबरी पर है. अश्विन ने अपने जादू से एडिलेड में जीत दिलाकर सीरीज में जो बढ़त दिलाई थी, वो उनकी गैर-मौजूदगी में पर्थ में छिन गई. नतीजा, ये हुआ कि ऑस्ट्रेलिया ने बराबरी कर ली और विराट कोहली की टेंशन टाइट हो गई. अश्विन मेलबर्न में भी टीम के साथ नहीं हैं क्योंकि उनकी इंजरी अभी ठीक नहीं हुई. लेकिन, जडेजा को प्लेइंग XI में शामिल कर विराट ने अपनी टेंशन का रामबाण इलाज ढूढ़ निकाला है.

सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड से 2 टेस्ट शतक दूर विराट, मेलबर्न में बराबरी करने का आखिरी मौका

SENA कंट्री में अश्विन से कम नही जडेजा

अश्विन की गैरहाजिरी में जडेजा कैसे हैं विराट की टेंशन का रामबाण इलाज अब जरा वो समझिए. SENA कंट्री, यानी साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में अश्विन से कम नहीं है टीम इंडिया के सरजी यानी रवींद्र जडेजा का जादू. उनके भी परफॉर्मेन्स का ग्राफ अश्विन के समकक्ष ही नजर आता है.

टीम इंडिया ने बदल डाले ओपनर्स, मेलबर्न टेस्ट के लिए भारत और ऑस्ट्रेलिया ने किया प्लेइंग XI का ऐलान

कोई किसी से कम नहीं

SENA कंट्री में अश्विन ने जहां 27 पारियों में 43.37 की औसत और 90 की स्ट्राइक रेट से 48 विकेट लिए हैं वहीं जडेजा ने भी 14 पारियों 43.56 की औसत और 92.2 की स्ट्राइक रेट के साथ 25 विकेट लिए हैं. तो हुए न दोनों लगभग बराबर. यहां ये भी देखना होगा कि जडेजा ने अश्विन से मुकाबले भी कम खेले हैं.

मेलबर्न में दिखेगा ‘सरजी’ का मैजिक

जडेजा के इस प्रदर्शन को देखकर उनसे मेलबर्न में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है. ठीक वैसे ही जैसा अश्विन ने एडिलेड में किया था. इसके अलावा जडेजा बल्ले से भी दम दिखाने का माद्दा रखते हैं. टीम इंडिया के लिए ओवल में खेले आखिरी टेस्ट में उन्होंने 86 रन की शानदार पारी खेली थी.