ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट में शानदार प्रदर्शन करने वाले स्पिनर-बल्लेबाज रविंद्र को इसका शानदार इनाम भी मिला है। जडेजा आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन गेंदबाज बन गए हैं। जडेजा ने हमवतन आर अश्विन को हटाकर नंबर वन रैंकिंग हासिल की है। बिशन सिंह बेदी और आर अश्विन के बाद जडेजा तीसरे भारतीय स्पिनर हैं जिन्होंने नंबर वन रैंकिंग हासिल की है।Also Read - रवींद्र जडेजा को CSK के लिए MS Dhoni से पहले बल्‍लेबाजी करनी चाहिए: Sanjay Manjrekar

जडेजा-अश्विन संयुक्त रूप से 892 अंकों के साथ पहले नंबर पर थे। जडेजा ने रांची टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 9 विकेट झटके थे। इसी प्रदर्शन के दम पर उन्होंने पहली रैंकिंग हासिल की। इस टेस्ट में जहां दूसरे भारतीय गेंजबाद विकेट को तरस रहे थे, वहीं जडेजा ने 9 विकेट हासिल कर चौंका दिया। Also Read - मैंने जो चाहा वो हासिल किया लेकिन टी20 विश्व कप के साथ कार्यकाल खत्म करना बेहतरीन होगा: रवि शास्त्री

इस गेंदबाज ने पहली पारी में पांच और दूसरी पारी में चार विकेट हासिल किए। जडेजा ने पहली पारी में 124 रन देकर पांच और दूसरी पारी में 52 रन देकर चार विकेट लिए। इससे उन्हें सात अंक मिले। इससे पहले वह 892 अंक के साथ अश्विन के साथ संयुक्त शीर्ष पर काबिज थे। बायें हाथ का यह स्पिनर बिशन सिंह बेदी और अश्विन के बाद गेंदबाजी रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचने वाला केवल तीसरा भारतीय गेंदबाज है। Also Read - IPL 2021: Ravindra Jadeja संभालना चाहते हैं CSK की कमान, बवाल मचने पर डिलीट किया कमेंट

पुजारा भी सर्वोच्च रैंकिंग पर

चेतेश्वर पुजारा को उनकी 202 रन की बेजोड़ पारी का इनाम मिला है। इससे वह चार पायदान चढ़कर अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ दूसरी रैकिंग पर पहुंच गए हैं। उनके अब 861 रेटिंग अंक हैं। सौराष्ट्र के बल्लेबाज ने न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन की जगह ली जो अब पांचवें स्थान पर खिसक गये हैं। जो रूट भी पीछे खिसके हैं जबकि भारतीय कप्तान विराट कोहली पहले की तरह चौथे स्थान पर बने हुए हैं। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ शीर्ष पर काबिज हैं। उन्होंने रांची में 178 और 21 रन की पारियां खेलने के बाद अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रेटिंग 941 अंक हासिल की है।

मार्श-पीटर ने बचाया मैच

शॉन मार्श और पीटर हैंड्सकॉम्ब की जोड़ी ने रांची टेस्ट के पांचवें दिन भारत की जीत की उम्मीदों पर पानी फेरते हुए ऑस्ट्रेलिया के लिए मैच ड्रॉ करा लिया। भारत से पहली पारी में 152 रन से पिछड़ने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने पांचवें दिन का खेल खत्म होने तक अपनी दूसरी पारी में 6 विकेट पर 204 रन बनाए और भारत पर 52 रन की बढ़त हासिल की।

मार्श और हैंड्सकॉम्ब ने एक समय 63 रन पर 4 विकेट गंवा चुकी ऑस्ट्रेलियाई टीम को खतरे से उबारते हुए पांचवें विकेट के 124 रन जोड़े और ऑस्ट्रेलिया को हार के संकट से बचाते हुए मैच ड्रॉ कराने में कामयाब रहे। टेस्ट सीरीज अब 1-1 से बराबरी पर है, सीरीज का चौथा और आखिरी मैच 25 मार्च से धर्मशाला में खेला जाएगा।