Sports News Today 08 February,India vs New Zealand 2nd ODI: भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने ऑकलैंड वनडे में अर्धशतकीय पारी खेल टीम को जीत दिलाने के भरसक प्रयास किए लेकिन दूसरे छोर से उन्हें किसी साथी का साथ नहीं मिला जिससे टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा. मेजबान न्यूजीलैंड ने शनिवार को ईडन पार्क में खेले गए 3 मैचों की सीरीज के दूसरे वनडे में मेहमान भारत को 22 रन से हराकर सीरीज पर कब्जा कर लिया. कीवी टीम की ओर से रखे गए 274 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 48.3 ओवर में 251 रन पर ढेर हो गई. Also Read - IPL 2021: CSK vs DC Match Highlights: दिल्ली से यूं हारी चेन्नई सुपर किंग्स, तस्वीरों में देखें मैच का हाल

ऑकलैंड में जीत हासिल कर न्यूजीलैंड ने वनडे सीरीज पर कब्जा किया Also Read - IPL 2021: दिल्ली के खिलाफ हार के बाद बोले धोनी- इस तरह की पिच पर हर बार 200 रन बनाना जरूरी

लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया एक समय 129 रन के कुल स्कोर पर अपने 6 विकेट गंवा चुकी थी. इस दौरान केवल श्रेयस अय्यर ही 50 के आंकड़े तक पहुंचे थे. हालांकि बाद में वह 52 रन बनाकर आउट हो गए. Also Read - IPL 2021- CSK vs DC: Prithvi Shaw और Shikhar Dhawan के दम से जीती दिल्ली, ये हैं चेन्नई की हार के कारण

इसके बाद जडेजा क्रीज पर आए और निचले क्रम के बल्लेबाजों के साथ मिलकर पारी को मजबूती प्रदान करने की कोशिश की. जडेजा ने शार्दुल ठाकुर के साथ 24 और नवदीप सैनी के साथ के साथ 76 रन की साझेदारी कर टीम को लक्ष्य के करीब ले गए.

अपनी 55 रन की पारी के दौरान जडेजा ने वनडे में अपने नाम एक खास उपलब्धि दर्ज कर ली. जडेजा के 7वें नंबर पर वनडे में ये 7वीं हाफ सेंचुरी है. इस दौरान उन्होंने भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और कपिल देव के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया.

वनडे में भारत की ओर से सातवें नंबर पर सबसे अधिक हाफ सेंचुरी जड़ने का रिकॉर्ड अब जडेजा के नाम हो गया है. इससे पहले इस क्रम पर धोनी और कपिल देव ने 6-6 अर्धशतक लगाए थे.

अंडर-19 विश्व कप में धमाल करने वाले कार्तिक त्यागी ने सुरेश रैना, प्रवीण कुमार के मार्गदर्शन को याद किया

न्यूजीलैंड की की भारत के खिलाफ 2014 के बाद ये पहली सीरीज जीत है. इससे पहले भारत ने कीवी टीम को 2016, 2017 और 2019 में हराया था.

सीरीज का तीसरा और अंतिम वनडे मंगलवार को माउंटमांगुनेई के बे ओवल में खेला जाएगा.