नई दिल्ली. मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर भारत की जीत की धमक महसूस होने लगी है. पहली पारी में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों का सरेंडर इसका साफ प्रमाण है. वैसे तो इसमें भूमिका सभी भारतीय गेंदबाजों की बराबर रही है, लेकिन जडेजा का चला जादू थोड़ा खास है. और, वो इसलिए क्योंकि ऑस्ट्रेलिया में अपना पहला टेस्ट खेलते हुए उन्होंने एक बड़ी कामयाबी हासिल की है. मेलबर्न टेस्ट के जरिए अगर मयंक अग्रवाल ने इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना पहला टेस्ट मैच खेला तो इसी के जरिए रवींद्र जडेजा को भी मौका मिला ऑस्ट्रेलिया में अपना पहला टेस्ट खेलने का.

WATCH: उस्मान ख्वाजा के साथ हुआ ये ‘हादसा’, ऑस्ट्रेलिया को लगा बड़ा झटका!

पहला टेस्ट, 50 विकेट

कमाल की बात ये है कि MCG पर ऑस्ट्रेलिया में अपना पहला टेस्ट मैच खेलते हुए जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना 50वां टेस्ट विकेट भी लिया. जडेजा ने ये कमाल उस्मान ख्वाजा का विकेट लेकर किया.

अपने टेस्ट करियर में जडेजा ने सबसे पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही विकेटों की फिफ्टी पूरी की है. ख्वाजा के तौर पर 50वां शिकार करने वाले जडेजा ने मिचेल मार्श का विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना 51वां शिकार भी किया.

टेस्ट करियर में जडेजा अब अपने विकेटों के दोहरे शतक के करीब पहुंच चुके हैं. इस दौरान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विकेटों की टेस्ट फिफ्टी पूरा करने के अलावा उनका दूसरा सबसे बेहतरीन प्रदर्शन इंग्लैंड के खिलाफ 45 विकेटों का है. वहीं तीसरा बेस्ट प्रदर्शन साउथ अफ्रीका के खिलाफ 29 विकेट चटकाने का है.