नई दिल्ली. टीम इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच आखिरी जंग केपटाउन में होगी. विराट एंड कंपनी का इरादा इस जंग को जीतकर सीरीज अपने नाम करने की होगी और उसे ऐसा करने से कोई रोक भी नहीं सकता. जी नहीं ऐसा हम नहीं बल्कि रिकॉर्ड बुक कह रहे हैं. क्रिकेट की रिकॉर्ड बुक के मुताबिक टीम इंडिया कभी भी 3 या उससे ज्यादा मैचों की बाइलेट्रल सीरीज नहीं हारा है.

पिछले रिकॉर्ड्स के मुताबिक भारतीय टीम ने अब तक 6 बार 2 देशों के साथ 3 या इससे ज्यादा मैचों की सीरीज खेली है और उन सबमें भारत जीता है. टीम इंडिया ने इस दौरान 2015-16 में ऑस्ट्रेलिया को 3-0, श्रीलंका को 2015-16 और 2017-18 में 3-0, साल 2016 में जिम्बाब्वे को 2-1, 2016-17 में इंग्लैंड को 2-1 और 2017-18 में न्यूजीलैंड को 2-1 से हराया है. ये आंकड़े प्रमाण है इस बात का कि भारत अब तक एक बार भी किसी भी देश से 3 या उससे ज्यादा मैचों की सीरीज नहीं हारा है.

INDIA TAKE ON SOUTH AFRICA IN SERIES DECIDER AT CAPETOWN | केपटाउन में ‘करो या मरो’ का मुकाबला आज, जीते तो बनेगा इतिहास

INDIA TAKE ON SOUTH AFRICA IN SERIES DECIDER AT CAPETOWN | केपटाउन में ‘करो या मरो’ का मुकाबला आज, जीते तो बनेगा इतिहास

केपटाउन में बेशक टीम इंडिया अब तक एक भी T20 मुकाबला नहीं खेली है लेकिन इस मैदान पर साल 2010 के बाद वनडे में साउथ अफ्रीका के लिए टीम इंडिया को हराना नाको चने चबवाने जैसा साबित हुआ है. 2010 के बाग भारत ने साउथ अफ्रीका से 2 वनडे केपटाउन में खेले हैं और दोनों जीते हैं.

आंकड़ों में T20 सीरीज पर भारत का कब्जा पक्का है. और, अगर विराट एंड कंपनी इसे सच कर दिखाती है तो ये भारतीय उपमहाद्वीप के बाहर भारतीय टीम की दूसरी 20 सीरीज जीत भी होगी. इससे पहले साल 2016 में भारत ने धोनी की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया में 3 T20 मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप किया था.

VIRAT SCORE IN CAPETOWN, TEAM INDIA CLINCH SERIES | केपटाउन मेें विराट कोहली बनेंगे साउथ अफ्रीका के लिए खतरा, ये है वजह

VIRAT SCORE IN CAPETOWN, TEAM INDIA CLINCH SERIES | केपटाउन मेें विराट कोहली बनेंगे साउथ अफ्रीका के लिए खतरा, ये है वजह

वैसे तो क्रिकेट अनिश्चिताओं का खेल है लेकिन अगर आंकड़े साथ हों तो इसका असर टीम के मनोबल पर पड़ता है . उम्मीद है कि विजेता साबित करने वाले इन आंकड़ों को टीम इंडिया अब केपटाउन में और भी मजबूत करती दिखेगी.