नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज स्पिनर शेन वार्न ने खुलासा किया कि 2005 एशेज इंग्लैंड से हार के बाद कोच जान बुकानन ने खिलाड़ियों की जीतने की इच्छा पर सवाल उठाया था, जिसके बाद टीम में विद्रोह की स्थिति बन गयी थी.Also Read - ईयान चैपल ने माना भारत के गेंदबाजों का लोहा, शेन वार्न बोले- विराट के पास हैं ज्‍यादा मैच विनर

वॉर्न की किताब ‘नो स्पिन’ में एक और टर्न Also Read - जडेजा-अश्विन एक साथ भी खेल सकते हैं, धीमी पिच के बावजूद वार्न-मुरलीधरन विकेट निकालते थे: सचिन

वार्न ने अपनी किताब ‘नो स्पिन’ में लिखा, ‘‘एजबेस्टन टेस्ट के बाद जान बुकनान ने बस से होटल की तरफ जाते समय टीम की बैठक बुलायी. मुझे लगा कि पता नहीं वह क्या कहेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हम टीम के ड्रेसिंग रूम में मिले और उन्होंने कहा कि हम मैच में अच्छा नहीं खेले. यह सही था. इसके बाद उन्होंने सवाल उठाया कि हम अच्छा क्यों नहीं खेले?’’ Also Read - Afghanistan vs Zimbabwe, 2nd Test: राशिद खान ने रच डाला इतिहास, शेन वॉर्न को छोड़ा पीछे

pjimage (2)

वॉर्न ने किया था बुकानन का विरोध

वार्न ने कहा कि बुकानन ने जब खिलाड़ियों की इच्छाशक्ति पर सवाल उठाया तो किसी ने भी उनका विरोध नहीं किया. वार्न ने कहा, ‘‘ हर कोई सर नीचे कर कर बैठा था, कोई भी उनसे उलझना नहीं चाहता था. मुझे लगा यह मेरे आत्मसम्मान की बात है और मैंने उन्हें जवाब दिया कि मैं आपकी बातों से इत्तेफाक नहीं रखता हूं.’’