नई दिल्ली: न्यूजीलैंड के महान क्रिकेटर रिचर्ड हैडली की दूसरे दौर की सर्जरी होगी क्योंकि कैंसर उनके यकृत तक फैल गया है. हैडली की पत्नी डियाने ने यह जानकारी दी. हैडली के परिवार ने पिछले महीने खुलासा किया था कि इस क्रिकेटर की आंत में कैंसर होने के बाद ट्यूमर को हटाया गया और कीमोकैथेरेपी के बाद उनके पूरी तरह से उबरने की उम्मीद है. हेडली के अलावा टीम इंडिया के खिलाड़ी युवराज सिंह को भी कैंसर हो चुका है. हालांकि सर्जरी के बाद वो पूरी तरह ठीक हो गए और क्रिकेट के मैदान पर वापसी भी की. Also Read - India Tour Of Australia 2020-21: ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए चुनी गई भारतीय टीम में 3 चौंकाने वाले नाम शामिल

Also Read - IND vs AUS: क्‍या ऑस्‍ट्रेलिया में परिवार के साथ जा सकेंगे भारतीय खिलाड़ी, सौरव गांगुली ने दिया जवाब

डियाने ने सोमवार को इस 67 वर्षीय पूर्व क्रिकेटर की स्थिति की ताजा जानकारी दी. उन्होंने कहा, ‘‘इस हफ्ते रिचर्ड की आगे की सर्जरी होगी क्योंकि उनके यकृत में कैंसर का पता चला है.’’ टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट हासिल करने वाले पहले गेंदबाज हैडली की बीमारी के संदर्भ में उनकी पत्नी ने कहा, ‘‘चिकित्सकीय सलाह यह है कि यह अब भी शुरुआती चरण में है और इसका आपरेशन किया जा सकता है.’’ Also Read - IND vs AUS: सूर्यकुमार यादव को फिर नहीं मिली टीम इंडिया में जगह, फैंस मांग रहे न्याय

विराट-अनुष्का संग लीड्स को रवाना हुए पांड्या, राहुल ने लिखा स्पेशल मैसेज

हैडली का इंटरनेशनल क्रिकेट करियर प्रभावी रहा है. उन्होंने 134 टेस्ट पारियों में 3124 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 2 शतक और 15 अर्धशतक भी जड़े. हेडली का सर्वश्रेष्ठ स्कोर नाबाद 151 रहा है. इसके अलावा 98 वनडे पारियों में 1751 रन बनाए हैं. इस दौरान 4 अर्धशतक जड़े. हेडली का सर्वश्रेष्ठ वनडे स्कोर 79 रन रहा है. अगर गेंदबाजी की बात करें तो उन्होंने 150 टेस्ट पारियों में 431 विकेट झटके हैं. जब कि 112 वनडे पारियों में 158 विकेट हासिल किए हैं.

इंग्लैंड ने प्लेइंग इलेवन में किया बदलाव, भारत की मुश्किलें बढ़ा देगा यह खिलाड़ी !

हेडली न्यूजीलैंड के दिग्गज खिलाड़ी रह चुके हैं. उन्होंने अपना पहला टेस्ट मैच फरवरी 1973 में पाकिस्तान के खिलाफ खेला था. इसके बाद आखिरी टेस्ट मुकाबला जुलाई 1990 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला. हेडली ने पहला इंटरनेशनल वनडे पाकिस्तान के खिलाफ फरवरी 1973 में खेला. वहीं मई 1990 में इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी वनडे मुकाबला खेला.