नई दिल्ली : आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के लिए ऑस्ट्रेलिया के सहायक कोच नियुक्त किए गए पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग का मानना है कि हाल के दिनों में खराब प्रदर्शन के बावजूद टीम खिताब बचाने में सक्षम है. आईसीसी वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, वनडे टीम रैंकिंग में छठे स्थान पर काबिज मौजूदा चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर के न होने से संघर्ष कर रही है. उसका यह संघर्ष इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप के लिए चिंता का विष्य है, जहां टीम को अपना खिताब बचाने उतरना है.

ऑस्ट्रेलिया ने 2015 में हुए विश्व कप में खिताब जीता था. पोंटिंग ने 1996 में पहली बार विश्व कप खेला था. उन्होंने कुल पांच बार विश्व कप में बल्लेबाजी की है, जिसमें से तीन में वह उस टीम का हिस्सा रहे हैं जिसने खिताब जीता है. वह दो बार (2003 और 2007 में) अपनी कप्तानी में टीम को चैम्पियन बना चुके हैं.

VIDEO: मैदान पर तिरंगा लेकर पैर छूने पहुंचा फैन, धोनी ने कुछ इस तरह जीता देश का दिल

पोटिंग से जब यह पूछा गया कि क्या टीम विश्व कप में अपना खिताब बचा पाएगी, उन्होंने कहा, “निश्चित तौर पर, हमारी टीम ऐसा करने में सफल होगी. इंग्लैंड की परिस्थितियां हमारे अनुकूल है और वहां खेलने से हमें फायदा होगा.”

उन्होंने कहा, “भारत और इंग्लैंड भी दो प्रमुख दावेदार हैं. लेकिन यदि आप वॉर्नर और स्मिथ को टीम में वापस शामिल कर लेते हैं तो मुझे लगता है कि टीम काफी मजबूत हो जाएगी और वह अपना खिताब बचा ले जाएगी.”

INDvsNZ: हार के बाद रोहित शर्मा दिया दिल जीत लेने वाला बयान, टीम के लिए कही ये बात

स्मिथ और वॉर्नर पर बॉल टेम्परिंग मामले में एक-एक साल का प्रतिबंध लगा हुआ है और यह प्रतिबंध अगले महीने 29 मार्च को समाप्त होगा. पोंटिंग ने कहा, ” मैं ऐसा इसलिए नहीं कह रहा हूं क्योंकि मैं कोच हूं. यह मैंने उस समय भी कहा था जब मैं कोच नहीं था. इंग्लैंड की परिस्थितियां हमारे खिलाड़ियों के खेलने के अनुकूल हैं. स्मिथ और वॉर्नर के पास काफी अनुभव हैं. वे दबाव को आसानी से कम कर सकते हैं.”