नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग एवं केरन रोल्टन और पूर्व टेस्ट क्रिकेटर नॉर्म ओ नील को आस्ट्रेलियन हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया हैं. इसकी औपचारिक घोषणा मेलबोर्न में सोमवार को 2018 एलन बॉर्डर मेडल समारोह में होगी.Also Read - बेन स्टोक्स की वापसी से इंग्लैंड टीम को होगा फायदा: पूर्व कप्तान नासिर हुसैन

Also Read - T20 World Cup 2021: एडम गिलक्रिस्‍ट की कंगारू टीम को चेतावनी, विश्‍व कप-एशेज में हारे तो होगी कार्रवाई

रिकी पोंटिंग ऑस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट और वनडे में सबसे ज्यादा मैच खेलने वाले खिलाड़ी हैं. उन्होंने 168 टेस्ट मैचों में 13,378 रन और 375 वनडे में 13,704 रन बनाए हैं. ‘क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू’ ने ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट हॉल ऑफ फेम के अध्यक्ष पीटर किंग के हवाले से बताया, “रिकी पोंटिंग सबसे बेहतरीन टेस्ट और वनडे क्रिकेट खिलाड़ियों में से एक हैं।” Also Read - T20 विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया की खराब फॉर्म का कोई मतलब नहीं होगा: मिशेल स्टार्क

वांडरर्स में धवन का ‘दोहरा’ शतक, ऐसा करने वाले बने पहले भारतीय बल्लेबाज !

किंग ने कहा, “एक असाधारण खिलाड़ी पोंटिंग का रिकॉर्ड एक शीर्ष क्रम के बल्लेबाज और कप्तान के रूप में उत्कृष्ट है और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के सफल युग के दौरान वह एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी रहे. केवल पोंटिंग और सचिन ने ही वनडे और टेस्ट में 13,000 से ज्यादा रन बनाए हैं, यह रिकॉर्ड क्रिकेट इतिहास में पोंटिंग के स्थान को दर्शाता है.”

रोल्टन ने ऑस्ट्रेलिया की महिला क्रिकेट टीम के लिए 1995 में अपना पहला मैच खेला था. उन्होंने 14 टेस्ट मैचों में 1,002 रन बनाए और 14 विकेट लिए. उन्होंने हेडिंग्ले इंग्लैंड के खिलाफ नाबाद 209 रनों की पारी खेली थी जो महिला टेस्ट क्रिकेट में किसी भी खिलाड़ी द्वारा बनाया गया सर्वोच्च स्कोर था.

अगर ऐसा हुआ तो भारत से छिन जायेगी चैम्पियन्स ट्रॉफी 2021 की मेजबानी, पढ़ें हैरान कर देने वाली जानकारी

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व टेस्ट क्रिकेटर ओ नील की 2008 में मृत्यु हो गई. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए 42 टेस्ट मैचों में 2779 रन बनाए हैं. ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट हॉल ऑफ फेम आधिकारिक रूप से 1996 में शुरू हुआ था और इन तीन खिलाड़ियों के इसमें शामिल होने के बाद इसके सदस्यों की कुल संख्या 49 हो जाएगी.