नई दिल्ली : पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग का मानना है कि विश्व कप में मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया की सफलता बहुत हद तक इस बात पर निर्भर करेगी कि वे स्पिन के खिलाफ कैसी बल्लेबाजी करते हैं और किस तरह से स्पिन गेंदबाजी करते है. पोंटिंग ने से कहा, “पिछले 12 से 18 महीने में टीम का प्रदर्शन इस पर निर्भर रहा है. एडम जम्पा अच्छी गेंदबाजी कर रहे, नाथन लायन भी टीम में है और जरूरत पड़ने पर ग्लेन मैक्सवेल भी अच्छी भूमिका निभा सकते हैं.”

अपनी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया को तीन बार विश्व विजेता बना चुके पोंटिंग ने ऑस्ट्रेलिया की मध्यक्रम बल्लेबाजी का समर्थन करते हुए कहा कि डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ की वापसी से टीम को मजबूती मिली है. उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि पिछले 12-18 महीने की तुलना में स्पिन के खिलाफ हमारे मध्यक्रम की बल्लेबाजी अच्छी हुई है. टीम में वॉर्नर और स्मिथ के आने से स्पिन के खिलाफ मध्यक्रम को मजबूती मिली है”

पोंटिंग ने कहा कि स्मिथ और वॉर्नर अपने पुराने विवादों को पीछे छोड़कर विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन करेंगे. उन्होंने कहा, “वे दोनों वास्तव में अच्छा खेल रहे हैं. स्मिथ को अभी भी लगता है कि वह शायद अभी तक 100 प्रतिशत फिट नहीं है, लेकिन वह बहुत दूर नहीं है. वॉर्नर ने आईपीएल में अपना दबदबा कायम किया था.”

‘मिस्ट्री स्पिनर्स’ का सामना करने को तैयार कोहली, राशिद को बताया अच्छा बॉलर

पोंटिंग विश्व कप में आस्ट्रेलियाई टीम के सहायक कोच होंगे. पूर्व कप्तान ने साथ ही कहा, “जब वे वहां पहुंचेंगे तो भीड़ और सामान से निपटने के लिए उनके पास मुद्दों का अपना उचित हिस्सा होगा. लेकिन वे बड़े खिलाड़ी हैं. वे वहां गए हैं और यह सब पहले देखा है. मुझे यकीन है कि वे ठीक हो जाएंगे.”