दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज रिली रोसो ने पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में इतिहास रच दिया है. रोसा पीएसएल में मुल्तान सुल्तांस की ओर से खेले रहे हैं जिसकी कप्तानी पाक बल्लेबाज शान मसूद कर रहे हैं. रोसा के रिकॉर्ड तूफानी शतकीय पारी के दम पर मुल्तान सुल्तांस ने पीएसएल के 12वें लीग मैच में मोहम्मद नवाज की अगुआई वाली टीम क्वेटा ग्लेडिएटर्स को 30 रन से पराजित कर दिया. इस जीत से सुल्तांस को 2 प्वाइंट्स मिले. 5 मैचों में 4 जीत के साथ मुल्तान सुल्तांस टीम 8 अंक लेकर 6 टीमों के प्वाइंट्स टेबल में टॉप पर है. Also Read - जून में खेले जाएंगे पाकिस्तान सुपर लीग के बचे मैच; कराची में होगा आयोजन

जडेजा ने एक साथ से पकड़ा वेगनर का शानदार कैच, बोले- उम्‍मीद नहीं थी कि गेंद… Also Read - PSL स्थगित, सोशल मीडिया पर IPL की आलोचना पर जमकर ट्रोल हुए Dale Steyn

30 वर्षीय रोसो ने 43 गेंदों पर शतक जड़ा जो पीएसएल इतिहास की सबसे तेज सेंचुरी है. इससे पहले पीएसएल में सबसे तेज सेंचुरी जड़ने का रिकॉर्ड का रिकॉर्ड कैमरन डेलपोर्ट के नाम था जिन्होंने पिछले एडिशन में लाहौर कलंदर्स की ओर से 49 गेंदों पर शतकीय पारी खेली थी. रोसो 44 गेंदों पर 10 चौकों और 6 छक्कों की मदद से 100 रन बनाकर नाबाद लौटे. Also Read - Covid-19 के बढ़ते मामलों के बाद स्थगित हुआ पाकिस्तान सुपर लीग; PCB ने पुष्टि की

रोसो की इस तूफानी पारी और कप्तान शान मसूद (46) के साथ उनकी 139 रन की साझेदारी के दम पर मुल्तान सुल्तांस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट पर 199 रन बनाए. रोसो अपनी टीम की ओर से शतकीय पारी खेलने वाले पीएसएल इतिहास के पहले खिलाड़ी बने. इससे पहले शोएब मकसूद ने पेशावर जाल्मी के खिलाफ 2018 में नाबाद 85 रन की पारी खेली थी जो मुल्तान सुल्तासं की ओर से किसी बल्लेबाज का सर्वाधिक स्कोर था.

विलियमसन का विकेट मिलने पर विराट ने अपने दोस्‍त को दी गाली, VIDEO हुआ वायरल

बाएं हाथ के बल्लेबाज रोसो पाकिस्तान में टी20 में सबसे तेज शतक जड़ने के मामले में संयुक्त रूप से पहले स्थान पर पहुंच गए हैं. इससे पहले 2015 में पाकिस्तानी सरजमीं पर बिलाल आसिफ ने सियाल कोट स्टालियंस और उमर अकमल ने 2016 में लाहौर व्हाइट्स की ओर से 43 गेंदों पर शतक ठोका था.