रियो डी जनेरियो, 17 अगस्त (आईएएनएस)| राष्ट्रमंडल चैम्पियन भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगट का रियो में ओलम्पिक सफर बेहद दुर्भाग्यशाली तरीके से खत्म हो गया। पहले मुकाबले में शानदार जीत हासिल करने वाली विनेश फ्रीस्टाइल स्पर्धा के 48 किलोग्राम भारवर्ग के 1/4 फाइनल्स मुकाबले के दौरान गंभीर रूप से चोटिल हो गईं और उन्हें ओलम्पिक का अपना सफर यहीं रोकना पड़ा। चीन की सुन यानान के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मुकाबले में विनेश एक समय 1-0 से आगे चल रही थीं, लेकिन तभी युनान ने अपने मजबूत दांव में फंसा लिया। विनेश ने इस दांव में फंसकर दो अंक तो गंवा ही बैठीं, बल्कि उनका पैर बुरी तरह मुड़ गया और वह दर्द से कराहने लगीं। Also Read - क्या भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं सौरव गांगुली? बंगाल चुनाव से पहले दादा ने खुद किया बड़ा खुलासा

Also Read - माटियो पेलिकोन रैंकिंग कुश्ती सीरीज: Bajrang Punia और Vinesh Phogat ने जीता गोल्ड

यह भी पढेंः रियो ओलम्पिक : साक्षी ने कुश्ती के अगले दौर में किया प्रवेश, श्रीकांत हारकर बाहर Also Read - शर्मनाक हार के बाद बोले Joe Root, 'पहला मैच तो ठीक था, लेकिन बाकी में हम Team India की बराबरी नहीं कर पाए'

Phogat

विनेश फोगट (फाइल फोटो)

यह भी पढेंः रियो ओलम्पिकः सलमान खान हर भारतीय एथलीट को देंगे 1 लाख का ईनाम

वह इसके बाद खड़ी भी नहीं हो पाईं और मुकाबले से हटने का फैसला कर लिया। रैफरी ने सुन यानान को विजयी घोषित कर दिया। विनेश को स्ट्रेचर पर बाहर ले जाया गया। विनेश के चोटिल होने का दुख उनकी विपक्षी खिलाड़ी के चेहरे पर साफ देखा जा सकता था। यानान इस मुकाबले से पांच क्लासीफिकेशन अंक हासिल करने में भी सफल रहीं। इससे पहले विनेश ने दमदार प्रदर्शन करते हुए एकतरफा मुकाबले में जीत हासिल करते हुए 1/4 फाइनल्स में प्रवेश किया था। विनेश को क्वालिफिकेशन राउंड में बाई मिला था और उन्होंने सीधे 1/8 फाइनल्स चरण से अपने अभियान की जीत के साथ शुरुआत की थी। विनेश ने अपने पहले मुकाबले में ग्रेट सुपीरियॉरिटी के साथ रोमानिया की अपनी प्रतिद्वंद्वी एमिला एलिना वुक को 11-0 से मात दी थी।