नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट टीम के युवा क्रिकेटर ऋषभ पंत ने अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया है. उन्होंने ने कहा कि क्रिकेट जरूर एक खेल है लेकिन टीम में हिस्सा पाना कोई खेल नहीं है. उन्होंने कहा कि यहां पर आपको अपने प्रदर्शन के आधार पर ही जगह मिलती है. एक इंटरव्यू पर धोनी के बारे में सवाल पूछने पर उन्होंने कहा कि मैं अभी उनकी जगह नहीं ले सकता और यदि अभी 21 साल की उम्र से ही मैंने यह सोचना शुरू कर दिया तो मेरे लिए खेलना बहुत मुश्किल हो जाएगा और मैं अपने खेल से भटक जाऊंगा.

अपने ‘हीरो’ सचिन की बैटिंग देखने को किसी भी दुकान की टीवी पर मैच देखते थे कोहली, बताए किस्से

आपको बता दें कि पंत को धोनी के विकल्प के रूप में देखा जाता है और धोनी के बाद वे ही अभी भारत के नंबर एक विकेट कीपर बल्लेबाज हैं. धोनी से तुलना किए जाने पर उन्होंने कहा कि हर एक खिलाड़ी एक महान खिलाड़ी के बराबर पहुंचना चाहता है लेकिन मैं इस पर ध्यान नहीं देता और मेरी यही कोशिश रहती है कि मैं उनसे जितना सीख सकूं सीख लूं. उन्होंने कहा कि उनके बराबर पहुंचना एक रात की बात नहीं है.

चैलेंज देकर जब खुद ही मुश्किल में फंस गए थे अब्दुल कादिर, सचिन ने इतने छक्के मार दिया था जवाब

इस युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा कि मैं धोनी को अपना मेंटर समझता हूं और अभी तक मैंने जो भी सीखा है वो सब सीनियर से ही सीखा है. उन्होंने कहा कि एक खिलाड़ी किसी महान खिलाड़ी के बराबर जरूर पहुंच सकता है लेकिन वह कभी भी उसकी जगह नहीं ले सकता. बता दें कि 2017 में अंतरराष्ट्रीय टीम में कदम रखने के बाद से पंत ने कई बड़ी पारियां खेल कर अपनी काबीलियत दिखाई है लेकिन वे अपनी फार्म में निरंतरता बरकरार नहीं रख पाए. पंत भारतीय टेस्ट टीम का भी अहम हिस्सा हैं.

टीम इंडिया मे नंबर चार को लेकर हरभजन ने दी सलाह तो युवराज सिंह ने ऐसे दिया करारा जवाब

उन्होंने ने कहा कि मैं उन लोगों की बात से बिल्कुल भी सहमत नहीं हूं जो यह कहते हैं कि मुझे जल्दी मौका मिल गया. अपने आलोचकों को जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि मैंने यहां तक पहुंचने के लिए कड़ी मेहनत की है कुछ भी फ्री में नहीं मिला है. पंत ने कहा कि आज के दौर में बहुत ज्यादा प्रतिस्पर्धा बढ़ गई है और यदि आप टीम के लिए परफार्म नहीं करेंगे तो आपकी जगह पक्की नहीं है. ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी टिम पैन के साथ हुए विवाद पर उन्होंने कहा कि क्रिकट में अक्सर ऐसा होता रहता है लेकिन अब हम दोनों के बीच में सब कुछ अच्छा है.