भारतीय टीम के पूर्व विस्‍फोटक बल्‍लेबाज वीरेंद्र सहवाग का मानना है कि अगर रिषभ पंत अपने शॉट सिलेक्‍शन में थोड़ा परिवर्तन कर लें तो वो अगले 15 साल तक टीम इंडिया में बने रह सकते हैं.

स्‍पोट्स स्‍टार से बातचीत के दौरान सहवाग ने कहा, “रिषभ पंत पर ज्‍यादा दबाव नहीं बनाना चाहिए. मुझे लगता है कि उन्‍हें अब प्रदर्शन करने वाला बल्‍लेबाज बनना चाहिए. उन्‍हें अपने शॉट सिलेक्‍शन पर काम करना होगा. उनके पास काफी प्रतिभा है. मुझे विश्‍वास है कि सही शॉट सिलेक्‍शन को अपनाकर वो भारतीय टीम में अगले 15 साल बने रह सकते हैं.”

प्रैक्टिस मैच: कप्‍तान रोहित शर्मा को पहले दिन नहीं मिला जौहर दिखाने का मौका

सहवाग ने कहा, “उन्‍हें यह समझना होगा कि कोई भी खिलाड़ी फ्लॉप हो सकता है. इसमें कोई बड़ी बात नहीं है. ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण है कि कप्‍तान विराट कोहली और कोच रवि शास्‍त्री का उन्‍हें समर्थन प्राप्‍त है. उन्‍हें इस बात का निर्णय लेना होगा कि क्‍या वो अपने प्राकृतिक खेल को बरकरार रखना चाहतें है या फिर एक प्रदर्शन करने वाला खिलाड़ी बनना चाहते हैं.”

आईपीएल 2018 में शानदार प्रदर्शन के बाद रिषभ पंत को पहली बार पिछले साल इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज के दौरान अंतरराष्‍ट्रीय टीम में मौका मिला था. रिषभ ने अपने खेल से अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में भी सभी को प्रभावित किया. चोट के कारण टीम से बाहर हुए रिद्धिमान साहा की जगह पंत को टेस्‍ट टीम में स्‍थाई मौके दिए जाने लगे.

सिर्फ विराट कोहली को ही नहीं कोच रवि शास्त्री को भी पंत से बात करनी चाहिए: गौतम गंभीर

रिषभ पंत इंग्‍लैंड और ऑस्‍ट्रेलिया की धरती पर टेस्‍ट क्रिकेट में शतक लगाने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर बल्‍लेबाज भी बने थे. वर्ल्‍ड कप टीम में सिलेक्‍शन नहीं होने के बावजूद रिषभ पंत को रिप्‍लेसमेंट खिलाड़ी के रूप में इंग्‍लैंड भेजा गया था. इसके बाद से ही वो लगातार फ्लॉप होते चले जा रहे हैं.