भारतीय क्रिकेट टीम के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत ने को महेंद्र सिंह धोनी का उत्तराधिकारी माना जा रहा था लेकिन लिमिटेड ओवर की टीम में उनकी जगह केएल राहुल ने ले ली. ऐसे में अब पंत को प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है. Also Read - फैंस ही नहीं साथी खिलाड़ियों को भी आ रही है धोनी की याद; रैना ने पोस्ट की फोटो तो चहल ने साक्षी से मदद मांगी

श्रीसंत बोले-ये बैट्समैन वनडे इंटरनेशनल में ठोक सकते हैं ट्रिपल सेंचुरी, एक विदेशी सहित 3 भारतीय शामिल Also Read - Global day of parents पर सचिन तेंदुलकर की सलाह- इस मुश्किल समय में माता-पिता का ध्यान रखें

धोनी को अपना मार्गदर्शक बताते हुए पंत ने कहा  है कि विश्व कप विजेता कप्तान अपने तरीके से युवा खिलाड़ियों की मदद करते है लेकिन किसी समस्या का पूर्ण समाधान देने की जगह खुद हल ढूढ़ने के लिए प्रोत्साहित करते हैं. Also Read - भारतीय क्रिकेटरों के लिए अभ्यास कैंप आयोजित करने पर काम कर रही है BCCI लेकिन समय सीमा अनिश्चित

पंत ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की अपनी टीम दिल्ली कैपिटल्स के साथ इंस्टाग्राम पर बातचीत में कहा, ‘वह (धोनी) मैदान के अंदर और बाहर मेरे मार्गदर्शक की तरह हैं. मैं किसी भी समस्या के समाधान के लिए उनसे संपर्क कर सकता हूं लेकिन वह मुझे कभी भी पूर्ण समाधान नहीं देते है.’

Happy 51st birthday ‘Prince’ Lara: कई वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं ब्रायन लारा के नाम, टेस्ट में बेस्ट है 400 रन की पारी

उन्होंने कहा, ‘ऐसा इसलिए भी है कि मैं पूरी तरह उन पर निर्भर ना रहूं. वह केवल संकेत देते हैं जिससे मुझे हल निकालने में मदद मिलती है. वह बल्लेबाजी में मेरे पसंदीदा जोड़ीदारों में से एक हैं. उनके साथ हालांकि बल्लेबाजी का मौका कम ही मिलता है.’

गौरतलब है कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण इस समय पूरी दुनिया में अन्य खेलों सहित क्रिकेट की सभी गतिविधियां ठप्प है. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें एडिशन को अनिश्चतकाल के लिए टाल दिया गया है. इस समय भारत सहित कई अन्य देशों में लॉकडाउन घोषित है.