सीमित ओवर फॉर्मेट में खराब प्रदर्शन के बावजूद विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को लगातार मौके दिए जाने के जवाब में टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ का कहना है कि इस युवा खिलाड़ी के पास क्षमता की कमी नहीं है, अगर पंत एक बार लय में आ जाते हैं तो वो प्रभावी खिलाड़ी साबित होंगे। Also Read - IPL 2021: CSK vs DC Match Highlights: दिल्ली से यूं हारी चेन्नई सुपर किंग्स, तस्वीरों में देखें मैच का हाल

वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज शुरू होने से पहले मीडिया के सामने आए कोच राठौड़ ने कहा, ‘‘हम पंत के बारे में ये चर्चा करते रहते हैं कि उसके पास कितनी क्षमता है। हर किसी को लगता है कि उसके पास एक्स फैक्टर है। हम सभी को लगता है कि वो अच्छा खिलाड़ी है। वो अपनी फिटनेस और खेल पर काफी काम कर रहा है। उन्होंने इस फॉर्मेट में पहले अच्छा प्रदर्शन किया है। जब वो रन बनाने लगेगा तब भारतीय टीम के लिए प्रभावी खिलाड़ी होगा। वो मैच विजेता खिलाड़ी होगा।’’ Also Read - IPL 2021: दिल्ली के खिलाफ हार के बाद बोले धोनी- इस तरह की पिच पर हर बार 200 रन बनाना जरूरी

वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने वाले केएल राहुल के बारे में पूछे जाने पर राठौड़ ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि वो अच्छा प्रदर्शन करेंगे। राठौड़ ने कहा, ‘‘हर क्रिकेटर खराब दौर से गुजरता है। उन्होंने कुछ तकनीकी और मानसिक बदलाव किया जिसका नतीजा दिख रहा है। वो हमेशा एक अच्छा खिलाड़ी रहा है। इसमें कोई शक नहीं था कि वो अच्छा प्रदर्शन करेगा।’’ Also Read - IPL 2021- CSK vs DC: Prithvi Shaw और Shikhar Dhawan के दम से जीती दिल्ली, ये हैं चेन्नई की हार के कारण

केएल राहुल भी हैं विकेटकीपिंग का विकल्प

राहुल के विकेटकीपिंग करने के विकल्प के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘ये फैसला टीम मैनेजमेंट को करना है। जाहिर है कि ये एक विकल्प है।’’

वनडे में भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे मयंक

चोटिल सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की जगह टीम में शामिल होने वाले मयंक अग्रवाल के बारे में पूछे जाने पर राठौड़ ने कहा कि कर्नाटक के इस बल्लेबाज ने ‘ए’ टीम के लिए वनडे में अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा, ‘‘मयंक ने कई सालों से घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है जिससे उन्होंने टेस्ट टीम में जगह बनाई और अच्छा प्रदर्शन किया। लिस्ट ए क्रिकेट में वनडे फॉर्मेट में उनका रिकार्ड शानदार है। मुझे लगता है वहां उसका औसत 50 से अधिक है। उन्होंने विजय हजारे में इस साल बेहतर किया।’’

चेज में माहिर है टीम, टारगेट सेट करने में करना होगा सुधार

हालांकि कोच ने भी माना कि टीम को पहले बल्लेबाजी करते हुए मैच जीतने के मामले में सुधार करने की जरूरत है।
उन्होंने कहा, ‘‘लक्ष्य का पीछा करने के मामले में हम नंबर एक टीम है। पहले बल्लेबाजी करते हुए आपको अलग तरह की निडरता की जरूरत होती है। जब आप लक्ष्य का पीछा करते हैं तो अपने खेल की योजना को बेहतर तरीके से बना सकते हैं। हम पहले बल्लेबाजी करने की स्थिति पर काम कर रहे हैं। हम कोशिश करेंगे कि पहले बल्लेबाजी करें और अच्छा स्कोर करे।