न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंगटन टेस्ट की पहली पारी में भारतीय टीम 165 रन ही बना सकी. टीम इंडिया ने पहले दिन का खेल खत्म होने पर 5 विकेट पर 122 रन बनाए थे. दूसरे दिन युवा विकेटकीपर रिषभ पंत और अजिंक्य रहाणे से उम्मीद थी कि दोनों बल्लेबाज भारतीय पारी को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाएंगे लेकिन पंत के रनआउट होने से भारत के इस मंसूबे पर पानी फिर गया. कुछ देर बाद रहाणे भी आउट होकर पवेलियन लौट गए. Also Read - रिषभ ने रोहित को दिया लंबे छक्‍के लगाने का चैलेंज, 'हिटमैन' ने दी गाली और बोले-तुझे...

दो दिन से सो नहीं सके हैं इशांत शर्मा, बोले-आज बहुत थकान महसूस हो रहा था Also Read - Covid-19 Lockdown: गर्लफ्रेंड के साथ टाइम बिता रहे हैं रिषभ पंत, तस्वीरें देख आप भी कहेंगे- ऐसा हो तो कौन उबेगा?

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी का मानना है कि पंत का रन आउट होना भारतीय पारी का टर्निंग प्वाइंट रहा जिससे वे शनिवार को अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम को 165 रन पर समेटने में सफल रहे. Also Read - कोरोनावायरस पीड़ितों की मदद को आगे आए अजिंक्य रहाणे, 10 लाख रुपये की मदद का किया ऐलान

पंत ने दिन के पहले ओवर में छक्के से शुरुआत की थी लेकिन अजिंक्य रहाणे के कारण वह रन आउट हो गए. भारत ने 33 रन के अंदर पांच विकेट गंवा दिए. रहाणे भी साउदी की गेंद पर विकेट के पीछे कैच देकर आउट हो गए थे.

साउदी से पूछा गया कि क्या रहाणे को आउट करने के लिए उनकी कोई खास रणनीति थी, ‘नहीं. आज सुबह पंत का रन आउट सबसे अहम रहा. वह खतरनाक बल्लेबाज हैं और जिंक्स (रहाणे) के साथ मिलकर तेजी से रन बना सकते थे.’

महिला टी20 वर्ल्ड कप के पहले मैच में पूनम यादव ने लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी

साउदी जानते थे कि पंत के आउट होने के बाद रहाणे के पास आक्रमण करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था. उन्होंने कहा, ‘हम जानते थे कि अगर हम एक छोर से विकेट हासिल करते हैं तो फिर जिंक्स थोड़ा आक्रामक होकर खेलने की कोशिश करेगा. इससे हमारे लिए मौके बनेंगे.’

साउदी ने कहा, ‘हमने आज सुबह बहुत अच्छी गेंदबाजी की. सुबह दो खतरनाक खिलाड़ियों को आउट करना और इस तरह से उसकी पारी जल्दी समाप्त करना बहुत अच्छा रहा.’

रहाणे ने 138 गेंदों पर 46 रन बनाए जबकि पंत ने 53 गेंदों पर 19 रन का योगदान दिया. तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने 20 गेंदों पर 21 रन की पारी खेली जिसमें 3 चौके शामिल थे.