पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले डेविस कप मुकाबले से पहले भारतीय टीम को रोहन बोपन्ना के रूप में तगड़ा झटका लगा है. कंधे में चोट के कारण अनुभवी टेनिस खिलाड़ी बोपन्ना पाकिस्तान के खिलाफ आगामी मुकाबले से बाहर हो गए हैं.

क्रिकेट के मैदान पर फिर भारत-पाक के बीच होगी जंग, फाइनल का टिकट कटाने उतरेंगी दोनों टीमें

दोनों टीमों के बीच ये मुकाबला कजाखस्तान में हो सकता है. 39 वर्षीय बोपन्ना ने सोमवार को एमआरआई स्कैन कराने के बाद ये जानकारी टीम के गैर खिलाड़ी कप्तान रोहित राजपाल को दी.

जीवन नेंदुचेझियान को मिल सकती है जगह

बोपन्ना के बाहर होने के बाद उनकी जगह जीवन नेंदुचेझियान को भारतीय टीम में शामिल किया जा सकता है. एआईटीए चयन समिति द्वारा घोषित आठ सदस्यीय टीम में बाएं हाथ के नेदुंचेझियान को तीन रिजर्व खिलाड़ियों में रखा गया था. 29 और 30 नवंबर को खेले जाने वाले इस मुकाबले के लिए बोपन्ना की जोड़ी दिग्गज लिएंडर पेस के साथ बनाए जाने की संभावना थी.

नडाल ने 5वीं बार टॉप पर रहते हुए साल को कहा अलविदा, फेडरर और जोकोविच की बराबरी की

‘रोहन बोपन्ना का नहीं होना निराशाजनक’

‘रोहन बोपन्ना का टीम में नहीं होना निराशाजनक है. हम चाहते हैं कि वह अपने कंधे का ख्याल रखें. उन्हें इलाज के लिए इंजेक्शन की जरूरत है. हमारे पास उनके विकल्प के तौर पर जीवन (नेदुंचेझियान) के रूप में अच्छा खिलाड़ी है. उसके आने से दाएं और बाएं हाथ के खिलाड़ी की अच्छी जोड़ी बनेगी.’- रोहित राजपाल, गैर खिलाड़ी कप्तान

पाक टेनिस महासंघ की अपील को खारिज कर सकता है आईटीएफ

इंटरनेशनल टेनिस फेडरेशन (ITF) तटस्थ स्थान पर मुकाबले को स्थानांतरित करने के खिलाफ पाकिस्तान टेनिस महासंघ की अपील को खारिज कर सकता है. भारत ने सुरक्षा कारणों की वजह से डेविस कप को लेकर मैच का जगह इस्लामाबाद से बदलने की मांग की थी. इंटरनेशनल टेनिस फेडरेशन ने भारत के इस अनुरोध को मान लिया है.आईटीएफ की स्वतंत्र सुरक्षा टीम ने संस्था को सलाह दी थी कि मैच पाकिस्तान में नहीं खेला जाना चाहिए. भूपति की अगुआई में भारत के शीर्ष खिलाड़ियों ने पाकिस्तान में जाने से इनकार कर दिया था.